मुख्य बातें:

  • यूपी में 24 करोड़ से अधिक कोविड टीके की डोज़ लगाई गईं।
  • 24 करोड़ कोरोना टीके की डोज लगाने वाला पहला राज्य बना यूपी।
  • यूपी में लखनऊ में लगाई गए सबसे अधिक टीके।
  • राज्य में 4 दिनों में एक करोड़ से अधिक टीके लगाए गए।

टीकाकरण की गति को बढ़ाते हुए, उत्तर प्रदेश ने 24 करोड़ टीकाकरण का आंकड़ा पार कर लिया है। गुरुवार को 24.26 लाख खुराकों सहित राज्य में अब तक 24.47 करोड़ खुराकें लगाई जा चुकी हैं। स्वास्थ्य अधिकारियों के मुताबिक जनवरी की शुरुआत से अब तक चार करोड़ से ज्यादा डोज दी जा चुकी हैं यानी औसतन हर दिन करीब 20 लाख डोज दी जा रही हैं

लखनऊ में लगाई गईं सबसे अधिक डोज़

टीकाकरण के मामले में लखनऊ सबसे आगे है, यहां सबसे अधिक लोगों को टीका लगाया गया है। प्रशासित टीकों की संख्या (68.17 लाख) के बाद प्रयागराज, आजमगढ़, जौनपुर, बरेली, गोरखपुर, कानपुर, आगरा, वाराणसी और गाजियाबाद में भी 50 लाख से अधिक टीके लगाए गए हैं। CoWin पोर्टल के डेटा से पता चलता है कि राज्य में 14.92 करोड़ से अधिक लोगों ने वैक्सीन की पहली खुराक ली है। इसमें 18 से अधिक आबादी के अलावा 70 लाख से अधिक किशोर शामिल हैं।

कुल प्रशासित खुराक में स्वास्थ्य और फ्रंटलाइन कार्यकर्ताओं और एक से अधिक बिमारियों वाले बुजुर्गों को दी गई 6.50 लाख एहतियात खुराक भी शामिल हैं, जो 9 जनवरी से शुरू हुई थी। टीके की दोनों खुराक लगवाने वाले व्यक्तियों की संख्या 9.28 करोड़ है। गणना के अनुसार, वयस्क आबादी 14.74 करोड़ है, स्वास्थ्य अधिकारियों ने कहा कि 96 प्रतिशत पात्र व्यक्तियों ने पहली खुराक ली है जबकि 64.1 प्रतिशत ने पूर्ण टीकाकरण करवा चुके हैं।

राज्य में चार दिनों में एक करोड़ से अधिक खुराकें प्रशासित की गईं!

इस उपलब्धि का श्रेय स्वेच्छा से वैक्सीन लेने वाले प्रत्येक नागरिक के साथ-साथ स्वास्थ्य कर्मियों, अग्रिम पंक्ति के कार्यकर्ताओं और प्रशासन से जुड़े लोगों को जाता है। कथित तौर पर, यूपी के सीएम ने जनवरी के अंत तक राज्य में वयस्क आबादी का 100 प्रतिशत पहली खुराक कवरेज सुनिश्चित करने का लक्ष्य रखा है। विशेष रूप से, राज्य में केवल चार दिनों में एक करोड़ से अधिक खुराकें प्रशासित की गईं!

उत्तर प्रदेश के बाद दूसरे नंबर पर महाराष्ट्र है, जहां अब तक 14.52 करोड़ खुराक प्रशासित की गईं हैं, इसके बाद 11.66 करोड़ खुराकों के साथ अगले स्थान पर पश्चिम बंगाल है, इसके बाद बिहार में 10.87 करोड़ और मध्य प्रदेश में 10.87 करोड़ खुराकें दी गई हैं।

 

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *