जरूरी बातें

100 एकड़ क्षेत्र में लखनऊ-फैजाबाद-गोरखपुर रोड के किनारे औद्योगिक गलियारे बनाये जायेंगे।
अयोध्या विकास प्राधिकरण (एडीए) के 65 किलोमीटर क्षेत्रफल में औद्योगिक गलियारे का होगा निर्माण।
यह औद्योगिक केंद्र अयोध्या मास्टर प्लान-2031 की मुख्या परियोजनाओं में होगा शामिल।
औद्योगिक केंद्र के लिए उद्योगपति सीधे भूमि मालिकों से ख़रीद सकेंगे भूखंड।

उत्तर प्रदेश सरकार लखनऊ-फैजाबाद-गोरखपुर के चार-लेन राष्ट्रीय राजमार्ग के दोनों किनारों पर अयोध्या विकास प्राधिकरण (एडीए) के 65 किलोमीटर के क्षेत्रफल में औद्योगिक गलियारे स्थापित करेगी । औद्योगिक गलियारे के मास्टरप्लान के तहत बनने वाला औद्योगिक केंद्र 100 एकड़ क्षेत्र को कवर करेगा।


लगभग 114 विकास परियोजनाओं के मास्टर प्लान में शामिल करे गए औद्योगिक केंद्र का निर्माण अयोध्या विकास प्राधिकरण (एडीए) द्वारा किया जायेगा। यह औद्योगिक केंद्र अयोध्या मास्टर प्लान-2031 की मुख्य परियोजनाओं में से एक होगा। एडीए के उपाध्यक्ष विशाल सिंह के अनुसार अगले महीने तक मास्टर प्लान को अंतिम रूप दिए जाने की सम्भावना है जिसे बाद में राज्य सरकार के पास मंजूरी के लिए भेजा जायेगा।

उद्योगपति सीधे भूमि मालिकों से खरीदेंगे भूखंड।

रोड के दोनों तरफ प्रस्तावित औद्योगिक गलियारों के 100 एकड़ के क्षेत्रफल को उद्योगपति सीधे भूमि मालिकों से ज़मीन खरीद सकेंगे और केंद्र का बुनियादी ढांचा अयोध्या विकास प्राधिकरण (एडीए) द्वारा प्रदान किया जायेगा। प्रमुख सचिव आवास एवं शहरी विकास दीपक कुमार ने कहा कि परियोजना की समय सीमा युद्ध स्तर पर पूरी की जाएगी। इसी मास्टर प्लान के तहत बस्ती और गोंडा जिले के गांवों को एडीए के तहत शामिल करने का एक और प्रस्ताव भी है।

 

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *