उत्तर प्रदेश ने हाल के दशक में अपने परिवहन के विकास और सुधार के लिए कई महत्वपूर्ण कदम उठाएं हैं। लखनऊ के चौधरी चरण सिंह अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे और वाराणसी लाल बहादुर शास्त्री अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के बाद कुशीनगर, नोएडा और अयोध्या में तीन और अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे बन रहे हैं। अधिकतम अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डों की मेजबानी करने वाला भारत का पहला राज्य बनने के अलावा, यूपी अधिकतम शहरों में मेट्रो रेल कनेक्टिविटी प्रदान करने वाला पहला राज्य भी है।

आगामी हवाई अड्डों से मिलेगा व्यापार और पर्यटन को बढ़ावा 

कुशीनगर में अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा लगभग पूरा हो चुका है और जल्द ही गौतमबुद्ध नगर के जेवर और अयोध्या में भी इंटरनेशल एयरपोर्ट का निर्माण किया जाएगा जिससे राज्य भर में विदेशी व्यापार और यात्रा को बढ़ावा मिलेगा। इन हवाईअड्डों के संचालन के बाद, पांच अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट वाला पहला राज्य होगा उत्तर प्रदेश।

यूपी के कई शहरों में चलाई जाएंगी मेट्रो रेल सेवाएं



 


उत्तर प्रदेश राज्य में अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डों के साथ कई शहरों में मेट्रो रेल निमार्ण का कार्य भी जारी है। जहां ये सेवाएं नोएडा, गाजियाबाद, ग्रेटर नोएडा और लखनऊ में पहले से ही काम कर रही हैं, आने वाले महीनों में आगरा और कानपुर में भी मेट्रो रेल चलाई जाएगी। यह भी बताया जा रहा है कि गोरखपुर शहर के लिए भी मेट्रो सेवाएं भी प्रस्तावित हैं। इसके अलावा, दिल्ली और मेरठ के बीच जल्द ही रैपिड रेल चलाई जाएगी।

-आईएनएस द्वारा मिली जानकारी के अनुसार

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *