उत्तर प्रदेश राज्य सड़क परिवहन निगम की बसों में जल्द ही अत्याधुनिक एंड्रायड ई-टिकटिंग मशीनें लगाई जाएंगी। इन मशीनों के लगने के बाद यात्री सफर के दौरान अपने टिकट का भुगतान कैशलेस तरीके से कर सकेंगे। यात्री टिकट के भुगतान के लिए बैंकों के स्मार्ट कार्ड, क्रेडिट-डेबिट कार्ड अथवा स्मार्ट एमएसटी का इस्तेमाल कर पाएंगे। इस योजना की तैयारियां अंतिम दौर में हैं और रिपोर्ट के अनुसार, पहले चरण में यह मशीनें लखनऊ और गाजियाबाद की बसों में लगाई जाएंगी।

अत्याधुनिक एंड्रायड ई-टिकटिंग मशीनों की निगरानी मुख्यालय से होगी

इस योजना को निष्पादित करने की सभी तैयारियां लगभग पूरी हो चुकी हैं। रिपोर्ट के अनुसार, तीन कंपनियों की निविदाओं का मूल्यांकन चल रहा है, और अगले हफ्ते तक इनमें से एक कंपनी को तय कर लिया जाएगा। पहले चरण में करीब 13,500 मशीनें आनी है. जो लखनऊ और गाजियाबाद क्षेत्र में ईटीएम भेजी जाएंगी और अगले 6 महीनों में यूपी के अन्य क्षेत्रों में ई-टिकटिंग मशीन की चरणवार सप्लाई की जाएगी। परिवहन निगम बोर्ड ने इस पर पहले ही मुहर लगा दी है।

प्रधान प्रबंधक अनंग मिश्र ने बताया कि एंड्रायड ईटीएम आपूर्ति करने वाली एक कंपनी अगले हफ्ते तक तय कर ली जाएगी। इसके बाद मशीनें आने लगेंगी। रोडवेज का यह महत्वाकांक्षी प्रोजेक्ट है। कैशलेस भुगतान की तरफ यह बड़ा कदम साबित होगा। मशीनें आनलाइन होंगी और इनसे चोरी की शिकायतों पर भी विराम लगेगा। इन आधुनिक मशीनों की सीधी निगरानी मुख्यालय से की जाएगी, यात्री जैसे ही टिकट लेगा पूरी जानकारी सीधे मुख्यालय के सर्वर पर चंद पलों में आ जाएगी। जिससे यह पूरी प्रक्रिया पारदर्शी होगी। 

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *