एक दिन में सात लाख टीकाकरण की गिनती के साथ यूपी सबसे अधिक टीकाकरण वाले प्रदेशों के समूह में भी आगे निकल गया है। राज्य में गुरुवार तक 3.60 करोड़ से अधिक टीकों के साथ उत्तर प्रदेश ने कोरोना टीकाकरण की संख्या के मामले में महाराष्ट्र को पीछे छोड़ दिया है। आंकड़ों के अनुसार, देश भर में टीके की खुराकों की कुल संख्या में उत्तर प्रदेश का 10% हिस्सा है।

3 करोड़ से अधिक पहली खुराक देने वाला देश का पहला राज्य 

रिकॉर्ड के अनुसार, उत्तर प्रदेश में टीकाकरण अभियान लगभग 22.4% पात्र आबादी को टीके की पहली खुराक लगाने में सफल रहा है। कुल मिलाकर, 3 करोड़ से अधिक व्यक्तियों को राज्य में पहली खुराक मिला है और यह उपलब्धि हासिल करने वाला यूपी देश का पहला देश है। CoWIN पोर्टल के आंकड़े बताते हैं कि राज्य में 3,04,96,595 लोगों ने कम से कम एक खुराक ली है, जबकि 55.27 लाख लोगों को पूरी तरह से टीका लगाया गया है।

सर्वाधिक पहली खुराक लगाने वाले राज्यों में, उत्तर प्रदेश के बाद महाराष्ट्र (2.82 करोड़), राजस्थान (2.15 करोड़), गुजरात (2.11 करोड़) और कर्नाटक (2.04 करोड़) का स्थान है। जिलों में, लखनऊ (15.64 लाख), गौतम बुद्ध नगर (13.04 लाख), गाजियाबाद (11.29 लाख), मेरठ (10.50 लाख) और गोरखपुर (9.93 लाख)  का प्रदर्शन सर्वश्रेष्ठ हैं। वहीं कासगंज (1.78 लाख), ललितपुर (1.86 लाख), कौशांबी (1.98 लाख) और औरैया (2 लाख) इंडेक्स में सबसे नीचे हैं।

राज्य में क्लस्टर मॉडल से चलाया टीकाकरण कार्यक्रम

स्वास्थ्य अधिकारियों के अनुसार, उत्तर प्रदेश में टीकाकरण अभियान क्लस्टर मॉडल द्वारा संचालित किया गया है। प्रभावी योजना और व्यापक निष्पादन के साथ, इस योजना ने बाधित कनेक्टिविटी, इंटरनेट सुविधाओं की कमी और अन्य चीजों के मामले में सभी गैप की जांच की है। जमीनी स्तर पर सावधानीपूर्वक योजना बनाकर इस परियोजना ने ग्रामीण क्षेत्रों में टीकाकरण की पहुंच को बढ़ाया है। 

विशेष रूप से, क्लस्टर मॉडल के शुरू होने के बाद ग्रामीण क्षेत्रों में रोज़ 40% टीकाकरण किया जा रहा है। अतिरिक्त मुख्य सचिव (एसीएस), स्वास्थ्य और परिवार कल्याण, अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि राज्य के पास अपनी सूची में टीकों की पर्याप्त उपलब्धता है और सभी पात्र व्यक्तियों को जल्द से जल्द इसका लाभ उठाना चाहिए। इसके अलावा, यह देखा गया है कि राज्य भर के नागरिक अब टीकाकरण कार्यक्रम के बारे में अधिक जागरूक और उत्सुक हैं।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *