मुख्य बिंदु

कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए शासन ने सभी शिक्षण संस्थानों को 6 फरवरी तक बंद करने का आदेश दिया है।
इसमें प्रदेश के सभी स्कूल-कॉलेज एंव विश्वविद्यालय शामिल है और इस दौरान ऑनलाइन क्लास पहले की तरह ही जारी रहेगी।
आपको बता दें की शीतकालीन अवकाश के कारण प्रदेश में आठवीं तक की कक्षाएं 31 दिसंबर 2021 से 14 जनवरी तक पहले से बंद थी।
यूपी में कोरोना के नए मामले 8000 से निचे आ चुके हैं।
लखनऊ में शुक्रवार को बीते 24 घंटे में 1172 नए मरीज मिले हैं और दो संक्रमित मरीजों की मौत हुई है।

उत्तर प्रदेश में कोरोना संक्रमण के चलते प्रदेश के सभी शिक्षण संस्थान अब 6 फरवरी तक बंद रहेंगे। इसमें प्रदेश के सभी स्कूल-कॉलेज एंव विश्वविद्यालय शामिल है। इस दौरान ऑनलाइन कक्षाएं पहले की तरह ही चलती रहेंगी। अपर मुख्य सचिव अवनीश कुमार अवस्थी की ओर से बीते शुक्रवार को इसके निर्देश जारी कर दिए गए हैं। इससे पहले सभी शिक्षण संस्थान 30 जनवरी तक बंद थे। हालांकि प्रदेश में बीते कुछ दिनों से कोरोना के नए मामलों में कमी आई है। यूपी में कोरोना के नए मामले 8000 से निचे आ चुके हैं। पिछले 24 घंटो के दौरान प्रदेश में 7,907 नए मामले सामने आए हैं और 14,993 मरीज डिस्चार्ज हुए हैं। प्रदेश में अब तक कुल एक्टिव केस 65,263 रह गए हैं।

लखनऊ में मिले 1304 नए मरीज

लखनऊ में शुक्रवार को बीते 24 घंटे में 1172 नए मरीज मिले हैं और दो संक्रमित मरीजों की मौत हुई है। इनमें से एक लखनऊ और दूसरा महोबा का रहने वाला था। वहीं, 2412 मरीज कोरोना से पूरी तरह संक्रमणमुक्त हुए और डिस्चार्ज होकर अपने घर गए। सीएमओ प्रवक्ता योगेश रघुवंशी ने बताया कि मृतकों में शामिल लखनऊ के 72 वर्षीय बुजुर्ग को डायबिटीज, हाइपरटेंशन की समस्या थी और उनका इलाज लोहिया अस्पताल में चल रहा था। वहीं, महोबा निवासी 62 वर्षीय महिला का पीजीआई में दिल संबंधी रोग का ऑपरेशन किया गया था और तमाम कोशिश के बावजूद उन्हें भी नहीं बचाया जा सका।

लखनऊ में हफ्ते भर पहले संक्रमितों का ग्राफ 3500 से ऊपर पहुंच गया था। लेकिन अब मरीजों का ग्राफ 2000 के निचे आ चूका है। नए मरीजों की संख्या में कमी आई है लेकिन उतार-चढ़ाव जारी है। 26 जनवरी को 2096 लोग कोरोना की चपेट में आये थे, जबकि 25 जनवरी को 1854 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। बीते दो दिन से शहर में कोरोना के नए मामलों में कमी आई है। लखनऊ में कोरोना संक्रमण की रफ्तार भले ही धीमी पड़ रही है, लेकिन संक्रमण का खतरा लगातार बरकरार है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *