सकारात्मकता दर में गिरावट और रिकवरी दर में सुधार के बीच, उत्तर प्रदेश प्रशासन राज्य से दो नमूनों में डेल्टा प्लस वैरिएंट पाए जाने से चिंतित है। राज्य में 2,57,897 सैंपल का परीक्षण किया गया है, इनमें से केवल 0.04% सैंपल कोविड पॉजिटिव पाए गए, और रिकवरी रेट अब 98.6 प्रतिशत है।अब यूपी में सक्रिय मामलों की संख्या घटकर 1,947 हो गई हैं, और इसमें से बड़ी संख्या में लोग होम क्वारंटाइन हैं।

राज्य में 52 लाख से अधिक लोगों लगी टीके की दोनों खुराकें


अतिरिक्त मुख्य सचिव (स्वास्थ्य) अमित मोहन प्रसाद के अनुसार, मंगलवार को उत्तर प्रदेश में 10 लाख से अधिक वैक्सीन डोज़ लगाए गए। कल टीके की 10,03,425 खुराक दी गई थी, अभी तक 2,93,18,619 लोगों को टीके की पहली खुराक लगाई गई है, और 52,10,062 नागरिकों को अब तक टीके की दोनों खुराक लगाई जा चुकी है। एसीएस ने आगे बताया कि राज्य के 2 नमूनों में डेल्टा प्लस वैरिएंट पाया गया था।

मिली जानकारी के मुताबिक, देश के अलग-अलग राज्यों में मिलने वाले डेल्टा वैरिएंट के मद्देनज़र, यूपी में नमूने लेकर जीनोम सीक्वेंसिंग कराई जा रही थी। उसी दौरान देवरिया के रहने वाले 66 वर्षीय व्यक्ति और गोरखपुर की महिला डॉक्टर के सैम्पल लेकर जीनोम सीक्वेंसिंग के लिए इंस्टीट्यूट आफ जीनोमिक्स एंड इंटीग्रेटिव बायोलाजी (आइजीआइबी), नई दिल्ली भेजे गए थे। बुधवार को सामने आए नतीजों के अनुसार दोनों में डेल्टा प्लस वैरिएंट पाया गया है। दोनों के सम्पर्क में आने वाले 100 लोगों की जांच कराई गई, जिनकी रिपोर्ट निगेटिव आई है। आपको बता दें, इनमें से एक बुजुर्ग व्यक्ति ने मृत्यु हो गई है और दूसरी महिला अब स्वस्थ हो चुकी है।

रिपोर्ट के अनुसार, ये सैंपल पुराने मामलों के थे, हाल ही में उचित जीनोम सीक्वेंसिंग के बाद नए म्यूटेंट की उपस्थिति की पुष्टि की गई है। इसे देखते हुए, एसीएस ने लोगों से यह सुनिश्चित करने की अपील की कि कोविड उपयुक्त व्यवहार के साथ, दिशानिर्देशों और प्रोटोकॉल का पूर्ण पालन किया जाएगा।

मंगलवार को 120 नए मामले सामने आए


अतिरिक्त मुख्य सचिव (सूचना) नवनीत सहगल ने उल्लेख किया कि राज्य ने एक दिन में 38,000 से अधिक संक्रमणों को दर्ज करने से लेकर, कल 120 नए मामले दर्ज करने तक का सफर सफलतापूर्वक पूरा किया है। महामारी के खिलाफ सबसे मजबूत हथियारों में से एक क्षेत्र के ग्रामीण क्षेत्रों में निगरानी समितियों और उनके द्वारा चलाए गए अभियान हैं।

इसके अलावा, राजधानी शहर लखनऊ में मंगलवार को 15 नए मामले सामने आए और 13 लोग ठीक हुए। इसके अलावा, शहर में अब 167 नए मामले हैं और पिछले दो दिनों में कोई मौत दर्ज नहीं की गई है।