मुख्य बातें

लखनऊ में नगर निगम बनाएगा महिलाओं के लिए विशेष मॉल।
इस मॉल विक्रेता और खरीदार दोनों ही महिलाएं ही होंगी।
मॉल में पुरुषों की एंट्री नहीं मिलेगी।
करीब 17 करोड़ की लागत से इस मॉल को चारबाग में 5000 स्क्वायर फीट ज़मीन पर इसका निर्माण किया जाएगा।

लखनऊ के चारबाग में महिलाओं के लिए 17 करोड़ की लागत से विशेष महिला मॉल बनाया जाएगा। इस मॉल में खरीदार भी महिलाएं होंगी और सामान बेचने वाली भी महिलाएं होंगी। इस मॉल के लिए नगर निगम ने चारबाग में लगभग 5,000 स्क्वायर फुट की जमीन अलॉट कर दी है और बस अड्डे के पास मॉल के लिए जगह चिन्हित की गई है जिसका निर्माण का प्रारूप भी तैयार हो गया है।

यह मॉल मेयर संयुक्ता भटिया की पहल से 8 महीने बाद यह प्रस्ताव अब दोबारा प्रक्रिया में आया है। मेयर संयुक्ता भाटिया ने मीडिया को बताया कि महिला दिवस पर महिला मॉल के विषय में प्रस्ताव तैयार किया था।

मॉल में महिलाओं को किया जाएगा प्रोत्साहित, पुरुषों को नहीं मिलेगी एंट्री

इस मॉल में सिर्फ महिलाओं से संबंधित सामान बेचा जाएगा जैसे, ज्वैलरी, कपड़े, चप्पलें, फैशन, बैग, शो पीस और अन्य उत्पादों की दुकानें होंगी और मॉल में पुरुषों को एंट्री नहीं मिलेगी। मेयर संयुक्ता भाटिया ने कहा कि महिला मॉल में महिलाओं को स्वरोजगार के लिए प्रोत्साहन भी मिलेगा।

पहले चरण में मॉल में 10/12 की 125 दुकानें महिलाओं को आवंटित की जाएंगी। बेसमेंट में पार्किंग बनाई जाएगी जो नगर निगम की आय बढ़ाने का काम करेगी। मॉल के लिए मुख्य सड़क पर जगह चिन्हित हो गई है और बिल्डिंग निर्माण का प्रस्ताव भी बन गया है। बजट आवंटित होते ही निर्माण कार्य शुरू हो जाएगा।

आपको बता दें कि देश का पहला महिला मॉल कोझीकोड, केरला में 2018 में खुला था। मॉल का पूरा संचालन महिलाओं के हाथ में ही था, और महिलाओं को आगे बढ़ाने के लिए इस मॉल की शुरुआत की गई थी।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *