लखनऊ में महामारी के प्रसार को रोकने के लिए क्रिसमस और नए साल पर होने वाले कार्यक्रमों में सावधानी बरतना आवश्यक है। इस बात को ध्यान में रखते हुए, प्रशासन ने शहर में धारा 144 की अवधि को 5 जनवरी तक बढ़ा दिया है।

जेसीपी लॉ एंड आर्डर पीयूष मोर्डिया ने इससे संबंधित आदेश जारी किए। यह कदम एहतियाती उपाय के रूप में उठाया जा रहा है ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि सभी आयोजनों व कार्यक्रमों में कोविड प्रोटोकॉल का कड़ाई से पालन किया जा रहा है।

जारी गाइडलाइन में मुख्य बातें निम्नलिखित हैं

  • कन्टेनमेंट जोन को छोड़कर शेष स्थानों पर 50 फीसद क्षमता के साथ रेस्टोरेंट, मल्टीप्लेक्स सिनेमा हाल और जिम खुलेंगे। स्वीमिंग पूल पूर्व की तरह प्रतिबंधित रहेंगे।
  • सरकारी दफ्तरों व विधानभवन के आस पास एक किमी के दायरे में ड्रोन से शूटिंग प्रतिबंधित रहेगी।
  • बिना अनुमति के पांच या उससे अधिक व्यक्तियों का किसी प्रकार का कोई जुलूस नहीं निकालेंगे। सार्वजनिक स्थान पर पांच या इससे अधिक व्यक्ति एक साथ इकट्ठा नहीं होंगे।
  • धर्म स्थलों में 50 से अधिक श्रद्धालुओं के एक बार में इकट्ठा होने पर भी प्रतिबंध
  • खुले स्थान अथवा मकानों की छत पर ईंट, पत्थर, बोतल, ज्वलनशील पदार्थ जमा करके नहीं रखेगा।
  • बिना मास्क पहने घूमने, सार्वजनिक स्थानों पर थूकने वालों पर कार्रवाई होगी।
  • सार्वजनिक स्थानों पर पुतला जलाना प्रतिबंधित है।
  • शादी समारोह व अन्य आयोजनों में व्यक्तियों की उपस्थिति बंद स्थानों पर एक समय में अधिकतम 100 की कोविड प्रोटोकाल के तहत होगी। कोविड हेल्प डेस्क की बनाना आवश्यक होगी।
  • खुले स्थानों पर क्षेत्रफल के अनुसार कोविड प्रोटोकाल का पालन करने के साथ ही हेल्प डेस्क भी आवश्यक होगी।
  • सोशल मीडिया पर ग्रुप एडमिन की जिम्मेदारी होगी की कोई भी शख्स भड़काऊ पोस्ट ना करें।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *