कोरोना वायरस के नए वैरिएंट B.1.1.529 ‘ओमीक्रॉन’ (Omnicron) को लेकर पूरी दुनिया चिंतित है और लोगों को इस घातक वायरस से बचाने के लिए जद्दोजहद जारी है। इसी के चलते उत्तर प्रदेश सरकार ने भी सतर्कता बढ़ाना शुरू कर दिया है। राजधानी लखनऊ में डीएम अभिषेक प्रकाश ने अपने अधिकारीयों और स्वास्थ्य विभाग को अलर्ट कर दिया है और पूरे जिले में कोरोना वायरस के प्रति जागरूकता और अधिक से अधिक लोगों का टीकाकरण करने का निर्देश दिया है। महामारी अधिनियम 1897 तथा राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 के तहत डीएम अभिषेक प्रकाश ने लखनऊ एयरपोर्ट से आने जाने वाले सभी डोमेस्टिक व इंटरनेशनल यात्रियों के लिए सख्त गाइडलाइन जारी कर दी है।

इंटरनेशनल यात्रियों के लिए जारी हुई गाइडलाइन

इंटरनेशनल टर्मिनल से आने वाले यात्रियों की थर्मल स्कैनिंग करवाई जायेगी और सभी यात्रियों के आगमन पर शत-प्रतिशत निःशुल्क RTPCR टेस्ट करवाया जाएगा।

इसके साथ ही सभी यात्रियों के आगमन पर नाम, मोबाइल नंबर, स्थानीय पता एवं अंतिम गंतव्य का पूरा पता नोट किया जाएगा और इसकी एंट्री निर्धारित पोर्टल पर International Traveller Category के अंतर्गत की जायेगी।

इंटरनेशनल टर्मिनल से आने वाले सभी यात्रियों को 8 दिनों तक होम क्वारंटाइन (Home Quarantine) में रहना होगा और इसका फॉलोअप इंटीग्रेटेड कोविड कमांड सेंटर ( Integrated covid Command and Control Center ) द्वारा फोन के माध्यम से लिया जाएगा।

8 दिनों तक होम क्वारंटाइन (Home Quarantine) में रहने के बाद रैपिड रिस्पांस टीम (Rapid Response Team) द्वारा इंटरनेशनल यात्रियों का दोबारा निःशुल्क RTPCR टेस्ट करवाया जाएगा और पहले और दूसरे RTPCR में पॉजिटिव (positive) पाए जाने पर प्रोटोकॉल के अनुसार उपचार के लिए भेजा जाएगा।

डोमेस्टिक यात्रियों के लिए जारी हुई गाइडलाइन

डोमेस्टिक टर्मिनल से आने वाले यात्रियों की भी थर्मल स्कैनिंग की जायेगी और कोरोना के लक्षण दिखने पर सभी यात्रियों की RTPCR जांच करवाई जायेगी। इसके साथ ही हर डोमेस्टिक फ्लाइट से आने वाले यात्रियों में से 10% यात्रियों की रैंडम RTPCR जांच करवाई जायेगी।

एयरपोर्ट पर आने वाले सभी यात्रियों का नाम, मोबाइल नंबर, स्थानीय पता एवं अंतिम गंतव्य का पूरा पता नोट किया जाएगा और इसकी एंट्री निर्धारित पोर्टल पर Domestic Traveller Category के अंतर्गत की जायेगी।

इन तीन देशों से आने वाले यात्रियों को 10 दिन होम क्वारंटाइन में रहना होगा

इमिग्रेशन और एयरपोर्ट हेल्थ ऑर्गनाइजेशन (Immigration and Airport Health Organisation) के साथ बैठक करने वाले मुख्य चिकित्सा अधिकारी (CMO) डॉ. मनोज अग्रवाल ने कहा, “सभी विदेशी यात्रियों का हवाई अड्डे पर ही आरटी-पीसीआर (RTCPR) के माध्यम से टेस्ट किया जाएगा।” लखनऊ में अगर कोई दक्षिण अफ्रीका, बोत्सवाना और हांगकांग से आता है उसे नियम फॉलो करने होंगे। यात्रियों को कोरोना वायरस (Corona virus) के नए ओमीक्रोन वैरिएंट के खिलाफ एहतियात के तौर पर 10 दिनों के लिए होम आइसोलेशन (Home Isolation) में जाना होगा, भले ही यात्री एयरपोर्ट पर कोरोना वायरस से नेगेटिव पाया जाता हो।

सभी यात्रियों के लिए लखनऊ एयरपोर्ट ने भी ट्रेवल एडवाइजरी जारी की

लखनऊ एयरपोर्ट पर आने जाने वाले सभी यात्रियों को प्रदेश की एयर ट्रैवलर रजिस्ट्रेशन (Air Traveller Registration) वेबसाइट पर अपना रजिस्ट्रेशन करना होगा और  नेगेटिव RTPCR रिपोर्ट देनी होगी जो 72 घंटे से अधिक पुरानी न हो। अगर किसी यात्री के पास RTPCR रिपोर्ट नहीं है तो उसका एयरपोर्ट पर ही RTPCR टेस्ट किया जाएगा। वहीं, 12 वर्ष से कम उम्र के बच्चों को RTPCR टेस्ट से छूट दी गई है और यात्रा के लिए RTPCR रिपोर्ट की आवश्यकता नहीं है।

इसके साथ ही लखनऊ एयरपोर्ट प्रशासन ने यात्रियों से अपील की है कि फ्लाइट टिकट बुक करने से पहले संबंधित एयरलाइन की कोरोना से जुड़ी गाइडलाइन पर ध्यान जरूर दें ताकि अनावश्यक परेशानी ना उठानी पड़े।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *