मुख्य बिंदु

लखनऊ में रात 10 बजे से सुबह 6 बजे तक संगीत और लाउडस्पीकर बजाने पर पूरी तरह प्रतिबंध लगा।
डीएम अभिषेक प्रकाश ने ध्वनि प्रदूषण विनियम और नियंत्रण नियम 2000 के तहत यह आदेश जारी किया है।
आदेश के मुताबिक लखनऊ को शांत, आवासीय, कमर्शियल, औद्योगिक क्षेत्र में बांटा गया है।
जारी किये गए आदेश का पालन नहीं करने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।
दिन के समय लाउडस्पीकर का उपयोग भी लिखित अनुमति लेकर किया जा सकेगा।
यूपी में चुनाव की तारीखों के साथ ही आचार संहिता (Code of Conduct) तत्काल प्रभाव से लागू हो गई है।

ध्वनि प्रदुषण के खिलाफ लड़ाई में लखनऊ में अब रात 10 बजे से सुबह 6 बजे तक तेज आवाज में संगीत और लाउडस्पीकर बजाने पर पूरी तरह प्रतिबंध रहेगा। डीएम अभिषेक प्रकाश ने पर्यावरण संरक्षण अधिनियम 1986, ध्वनि प्रदूषण विनियम और नियंत्रण नियम 2000 के तहत या आदेश जारी किया है। लखनऊ विकास प्राधिकरण की महायोजना में तय अलग-अलग उपयोग के क्षेत्र के मुताबिक प्रतिबंध लागू होंगे। वहीं, दिन के समय भी लिखित अनुमति लेकर ही लाउडस्पीकर का उपयोग सुबह 6 बजे से रात 10 बजे के बीच किया जा सकेगा।

शहर को विभिन्न क्षेत्रों में बांटा गया

डीएम के आदेश के मुताबिक लखनऊ को शांत, आवासीय, कमर्शियल, औद्योगिक क्षेत्र में बांटा गया है। इसमें शहरी और ग्रामीण दोनों ही इलाके शामिल हैं। जारी किये गए आदेश का पालन नहीं करने वालों के खिलाफ कानून के तहत कार्रवाई की जाएगी। शांत क्षेत्र में शामिल अस्पताल, शिक्षण संस्थान, धार्मिक स्थल, न्यायालय के 100 मीटर के दायरे में आने वाले इलाकों को रखा गया है। आदेश में शांत परीक्षेत्र का बोर्ड भी लगाना भी शामिल है। यहां संगीत-गाना, ढोल और हॉर्न बजाना आदि प्रतिबंधित है।

उत्तर प्रदेश में अचार संहिता लागू हो चुकी है

उत्तर प्रदेश में चुनाव (UP Election 2022) की तारीखों का ऐलान हो गया है। उत्तर प्रदेश में 10 फरवरी से चुनाव की शुरुआत हो रही है और 7 फरवरी तक चुनाव होंगे। चुनाव आयोग ने बताया कि उत्तर प्रदेश में सात चरणों में मतदान होंगे और वोटों की गिनती 10 मार्च को होगी। यूपी चुनाव की तारीखों के ऐलान के साथ ही उत्तर प्रदेश में आदर्श चुनाव सहिंता तत्काल प्रभाव से लागू हो गई है. चुनाव आयोग के मुख्य चुनाव आयुक्त सुशील चंद्रा नेने कहा कि राज्य में आदर्श आचार संहिता (Code of Conduct in UP) लागू हो गई है. राज्य में स्वतंत्र चुनाव के लिए आचार संहिता (Model Code of Conduct) का पालन करना सभी राजनैतिक दलों की जिम्मेदारी होती है।

दरअसल, देश अथवा राज्य में स्वतंत्र और निष्पक्ष चुनाव कराने के लिए चुनाव आयोग कुछ नियम बनाता है। इन्हीं नियमों को आचार संहिता कहते हैं। उत्तर प्रदेश में आदर्श आचार संहिता लागू हो गई है, तो राजनीतिक दल से लेकर आम मतदाता तक को भी इसका पालन करना होगा। आदर्श आचार संहिता के तहत कई नियम हैं, जिनका पालन जरूरी होता है. साथ ही नियम तोड़ने वालों को लिए सजा का भी प्रावधान है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *