मुख्य बिंदु

लखनऊ में रात 11 बजे नाईट कर्फ्यू लगने के बाद क्लबों या अन्य समारोह स्थलों पर जश्न मनाने की छूट नहीं होगी।
जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश ने कोरोना प्रोटोकॉल का हवाला देते हुए कहा कि रात 11 बजे के बाद कहीं कोई आयोजन नहीं होगा।
पुलिस कमिश्नर ने आम जनता से भी अपील की है कि कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करते हुए लोग 11 बजे से पहले अपने घर पहुंच जाएं।
31 दिसंबर की रात को सुरक्षा व्यवस्था और कोरोना प्रोटोकॉल को ध्यान मे रखते हुए शहर के हर इलाके में भारी मात्रा में फोर्स तैनात रहेगी।

लखनऊ में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए जिला प्रशासन ने शहर में कई पाबंदियां लागू कर दी है। लखनऊ पुलिस कमिश्नरेट ने चेताया है की नये साल के उत्सव पर होने वाले जश्न हर हाल में रात 11 बजे से पहले बंद हो जाएं और कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करते हुए शहर के नागरिक हर हाल में रात 11 बजे से पहले अपने घर चले जाएं। लखनऊ पुलिस कमिश्नरेट ने कहा है कि रात 11 बजे के बाद कार्यक्रम करने वालों पर विशेष नजर रहेगी और कोरोना प्रोटोकॉल का उल्लंघन करने वालों पर जरूरत पड़ने पर संवैधानिक करवाई की जाएगी।

लखनऊ पुलिस कमिश्नर डीके ठाकुर ने कहा कि अब तक की कोरोना गाइडलाइन के हिसाब से रात 11 बजे के बाद किसी को भी कार्यक्रम करने की इजाजत नहीं होगी। पुलिस कमिश्नर ने शहर के सभी थानेदारों और एसपी को निर्देश दिया है कि वे अपने इलाके में होने वाले सभी कार्यक्रमों का ब्यौरा जुटा लें। हर प्रमुख होटल और अन्य कार्यक्रम स्थलों पर पुलिस बस तैनात रखें और उन्हें पहले से सूचना भी दे दें कि वह 31 दिसंबर को अपने परिसर में हर हाल में रात 10:30 बजे तक कार्यक्रम खत्म कर दें। पुलिस कमिश्नर ने आम जनता से भी अपील की है कि कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करते हुए लोग 11 बजे से पहले अपने घर पहुंच जाएं। 31 दिसंबर की रात को सुरक्षा व्यवस्था और कोरोना प्रोटोकॉल को ध्यान मे रखते हुए शहर के हर इलाके में भारी मात्रा में फोर्स तैनात रहेगी।

कोविड के प्रसार को रोकने के लिए उठाए जा रहे सख्त कदम

जिला प्रशासन की ओर से आबकारी और खाद्य विभाग को स्पष्ट निर्देश दिए गए हैं कि रात 11 बजे के बाद खुले रहने वाले रेस्टोरेंट, मॉल, बार और रिसोर्ट पर सख्त कार्रवाई की जाएगी।  प्रशासनिक अधिकारियों के अनुसार, अगर संक्रमण और फैला तो फिर कर्फ्यू का समय और बढ़ाया जा सकता है, साथ ही बाजारों, सिनेमाघरों और मॉल के खुलने और बंद होने के समय में परिवर्तन किया जा सकता है।

इसके अलावा सार्वजनिक समारोहों में व्यक्तियों की संख्या भी घटाई जा सकती है। अभी तक सार्वजनिक कार्यक्रमों में बंद जगह पर अधिकतम एक समय पर 200 और खुले स्थान पर क्षमता का 50% की अनुमति है। डीएम अभिषेक प्रकाश ने सभी अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि बाजारों में लगातार निगरानी करें और जहां पर भी दुकानों में बिना मास्क के लोग मिलें तो दुकानदार के खिलाफ भी कार्रवाई करें।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *