शहर में ट्रैफिक की स्थिति को सुधारने के लिए लखनऊ में कई प्रयास किये जा रहे हैं। लखनऊ विकास प्राधिकरण ने चौक में मल्टी-लेवल पार्किंग और सह-आवासीय परिसर स्थापित करने की योजना बनाई है। वर्तमान प्रस्तावों के अनुसार चौक में फायर स्टेशन के पास स्थित नजूल की खाली जमीन पर एलडीए द्वारा मल्टीलेवल पार्किंग वाले आवासीय अपार्टमेंट बनाए जाएंगे। परियोजना की लागत को कवर करने के लिए, आवासीय अपार्टमेंट को मल्टी-लेवल पार्किंग के ऊपर एलडीए द्वारा बनाए जाएगा।

चौक में नियमित रूप से देखे जाने वाले ट्रैफिक जाम को दूर करने के लिए एक कदम


जिलाधिकारी एवं लखनऊ विकास प्राधिकरण के वीसी अभिषेक प्रकाश ने कोनेश्वर चौराहा के पास फायर स्टेशन के पीछे की जमीन का दौरा किया। आकलन के लिए अधिकारी के साथ संगठन के सचिव पवन गंगवार भी थे। उन्होंने वर्तमान परिस्थितियों को देखते हुए आगे की कार्ययोजना तैयार करने के निर्देश अधिकारियों को दिए।

उन्होंने पुष्टि की कि लाजपत नगर कॉलोनी के कोनेश्वर चौराहे के पास नजूल भूमि के विशाल विस्तार को वैकल्पिक उपयोग में लाया जाएगा। साथ ही आगामी पार्किंग को इस तरह से स्थापित किया जाएगा ताकि चौक क्षेत्र में नियमित रूप से लगने वाले जाम को कम किया जा सके। इसके अतिरिक्त, एलडीए प्रस्तावित आवासीय भवन में क्वार्टरों को बेचकर पार्किंग स्थान की लागत को कवर करने में सक्षम होगा। इन बातों को ध्यान में रखते हुए अधिकारियों को एक मजबूत ढांचा तैयार करने को कहा गया है।

रूमी गेट, केजीएमयू के आसपास के क्षेत्रों को लाभ होगा


कथित तौर पर अपर मुख्य सचिव यूपी अवनीश कुमार अवस्थी ने मल्टी लेवल पार्किंग में जमीन के इस्तेमाल को मंजूरी दे दी है। निरीक्षण के दौरान अधिकारियों ने मल्टी लेवल पार्किंग के डिजाइन पर विचार किया। इसके अलावा, वाहनों के उचित प्रवेश के लिए सड़क की चौड़ाई पर भी चर्चा की गई।

उम्मीद है कि इस नए विकास से चौक स्टेडियम, घंटाघर, रूमी गेट, चैती वाली मस्जिद, बड़ा इमामबाड़ा, केजीएमयू, बुद्ध पार्क, हाथी पार्क और अटल बिहारी कन्वेंशन सेंटर और आसपास के स्थानों की आने जाने वाले यात्रियों को लाभ होगा। वे अपने वाहनों को सुरक्षित स्थान पर पार्क कर सकेंगे, साथ ही ट्रैफिक जाम की समस्या का भी समाधान हो जाएगा।