राजधानी लखनऊ में कोरोना मरीजों के इलाज के लिए लखनऊ प्रशासन नें सरोजनी नगर स्थित हज हाउस में अस्थाई कोविड हॉस्पिटल का निर्माण कार्य शुरू करवा दिया है और अगले 10 दिन के अंदर इस कोविड हॉस्पिटल में मरीजों को भर्ती कर लिया जाएगा ताकि जल्द से जल्द मरीजों को बेहतर उपचार मिल सके और कोरोना को हराया जा सके।


हज हाउस में 225 बेड का L-3 लेवल का हॉस्पिटल बनाया जाएगा और हॉस्पिटल के सभी बेडों पर ऑक्सीजन की सीधी सुविधा होगी। हज हाउस में राज्य सरकार की मदद से हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (HAL) इस हॉस्पिटल को तैयार करेगा।



HAL की टीम के सदस्यों नें इस कोविड हॉस्पिटल का मास्टर प्लान तैयार करना शुरू कर दिया है। इसके साथ ही यहां पैरामेडिकल स्टाफ और सीनियर डॉक्टर की देखरेख में डेडीकेटेड मेडिकल टीम मरीजों का इलाज करेगी। इस बात का भी ध्यान रखा जा रहा है की मरीज़ के परिजनों को मरीज के स्वस्थ के बारे में रोजाना जानकारी मिलती रहे ताकि किसी प्रकार की असुविधा न हो। राजधानी लखनऊ में कोरोना के बढ़ते मामलों पर नियंत्रण पाने के लिये दिल्ली से अतरिक्त वेंटिलेटर मंगाए गए हैं। सरकार का उद्देश्य प्रत्येक मरीज को इलाज और उसकी जिंदगी को बचाना है।