टोक्यो ऑलंपिक में भारत के सभी खिलाड़ियों ने एक अंतर्राष्ट्रीय मंच देश का गौरव बढ़ाया है और पदक के साथ सभी देशवासियों का दिल भी जीता है। इनकी मेहनत, लगन और बेहतरीन प्रदर्शन को देखते हुए, यूपी सरकार ने इन्हें सम्मानित करने का निर्णय लिया है। लखनऊ में 19 अगस्त को इकाना अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम में एक भव्य समारोह आयोजित किया जाएगा, जिसमें इन खिलाड़ियों को सम्मानित करने के लिए और उनका मनोबल बढ़ाने के लिए धनराशि दी जाएगी।

भारतीय पुरुष हाकी टीम के सभी सदस्य किए जाएंगे सम्मानित


लखनऊ में 19 अगस्त को होने वाले इस बड़े आयोजन में यूपी के मुख्यमंत्री टोक्यो ओलंपिक खेल पदक जीतने वाले सभी सात खिलाड़ियों के साथ ही उत्तर प्रदेश से भाग लेने वाले खिलाड़ियों को भी सम्मानित करेंगे। सम्मान और प्रशंसा के तौर पर धनराशि प्राप्त करने वाले खिलाड़ियों में 41 वर्ष बाद ओलंपिक खेलों में पदक जीतने वाली भारतीय पुरुष हाकी टीम के सभी सदस्य शामिल हैं।

रिपोर्ट के अनुसार, अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी तथा प्रमुख सचिव खेल एवं युवा कल्याण कल्पना अवस्थी ने गुरुवार को इस कार्यक्रम की तैयारी का जायजा लेने के साथ ही आयोजन स्थल का निरीक्षण किया। इन्होंने संबंधित अधिकारियों को समय से सभी तैयारियों को पूरा करने कानिर्देश भी दिया।

उत्तर-प्रदेश से भाग लेने वाले सभी खिलाड़ियों को भी धनराशि प्रदान की जाएगी


मुख्यमंत्री के निर्देश पर उत्तर प्रदेश सरकार की तरफ से टोक्यो ओलंपिक-2020 में स्वर्ण पदक प्राप्त विजेता एथलीट नीरज चोपड़ा को दो करोड़ रुपये की धनराशि से सम्मानित किया जाएगा। कथित तौर पर, रजत पदक प्राप्त करने वाली भारोत्तोलन मीराबाई चानू तथा पहलवान रवि दहिया को डेढ़-डेढ़ करोड़ और कांस्य पदक जीतने वाली बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधू, महिला मुककेबाज लवलीना बोरगोहन, पहलवान बजरंग पुनिया तथा पुरुष हाकी टीम के सभी 19 सदस्यों को एक-एक करोड़ रुपया की धनराशि प्रदान की जाएगी। भारत की महिला हाकी टीम तथा चौथे स्थान पर रहने वाले पहलवान दीपक दहिया तथा महिला गोल्फर आदित्य अशोक, इन सभी को 50 लाख की धनराशि से सम्मानित किया जाएगा।

इसके साथ ही उत्तर प्रदेश से टोक्यो ओलंपिक खेल में भाग लेने वाले सभी खिलाड़ियों को 25-25 लाख रुपये की धनराशि दी जाएगी। वाराणसी के हॉकी खिलाड़ी ललित उपाध्याय और महिला हॉकी टीम की खिलाड़ी वंदना कटारिया को 25 लाख रूपय की अतिरिक्त राशि पुरस्कार स्वरूप प्रदान की जाएगी।

खिलाड़ियों के अतिरिक्त, कार्यक्रम में हॉकी टीम के मुख्य प्रशिक्षकों व सदस्यों को भी सम्मानित किया जाए। उम्मीद की जा रही है कि सरकार की इस पहल और उत्साहवर्धन से अन्य खिलाड़ियों को भी प्रोत्साहन मिलेगा और भविष्य में हम यूपी से कई और खिलाड़ियों को कई प्रतियोगिताओं में भाग लेते हुए देखेंगे।