ज़रूरी बातें:

  • लखनऊ नगर निगम ने शहर भर में विभिन्न प्रमुख स्थानों पर एक डिसइंफेक्शन अभियान शुरू किया  है।
  • नागरिक निकाय ने शहर के विभिन्न स्थानों पर डिसइंफेक्टेंट और एंटी-लार्वा स्प्रे का छिड़काव किया।
  • भारत में ओमिक्रॉन के मामले अब तक कुल 73 संक्रमणों तक पहुंच चुके हैं।

कोरोना की स्थिति पर नियंत्रण पाने के लिए, लखनऊ नगर निगम द्वारा शहर भर में विभिन्न स्वच्छता अभियान चलाए हैं। देश भर में ओमिक्रॉन के मामलों में बढ़ोत्तरी को देखते हुए, नागरिक निकाय ने लखनऊ में विभिन्न प्रमुख स्थानों पर एक डिसइंफेक्शन अभियान भी शुरू किया है। पिछले 24 घंटों में भारत में ओमिक्रॉन संक्रमण के 12 नए मामले दर्ज किए गए हैं, जिसके मद्देनज़र यह प्रयास और भी आवश्यक हो जाते हैं।

शहर में ओमिक्रॉन के खतरे को खत्म करने के लिए स्वच्छता अभियान

भारत में ओमिक्रॉन के बढ़ते मामलों के बीच, उत्तर प्रदेश सरकार ने राज्य में इस नए वैरिएंट के प्रसार के खिलाफ अपनी सुरक्षा बढ़ा दी है। जबकि भारत में ओमिक्रॉन के मामले अब तक कुल 73 तक पहुंच चुके हैं, यह खतरनाक वैरिएंट अभी तक उत्तर प्रदेश में प्रवेश नहीं कर पाया है। इस नए स्ट्रेन से बचाव के लिए, प्रशासन विभिन्न एहतियाती उपाय कर रहा है। लखनऊ के नागरिक निकाय ने गोमतीनगर, लालबाग, चौक, ऐशबाग और निशातगंज सहित शहर के विभिन्न स्थानों पर डिसइंफेक्टेंट और एंटी-लार्वा स्प्रे का छिड़काव किया।

जहां इस तरह के स्वच्छता अभियान और स्वच्छता के प्रति सावधानी समय की आवश्यकता है, वहीं अपनी सुरक्षा के लिए निजी स्तर पर लोगों के प्रयास ज़रूरी हैं। इस वायरस से बचाव के लिए, यह महत्वपूर्ण है कि आम जनता प्रशासन का सहयोग करे और कोविड अनिवार्य प्रोटोकॉल का पालन करे। इसके अलावा, संक्रमण के वापस बढ़ने के खतरे को रोकने के लिए, सभी नागरिक जिन्होंने कोरोना का टीका नहीं लगवाया है, उन्हें जल्द से जल्द अपना टीकाकरण लगवाने के लिए प्रोत्साहित किया जा रहा है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *