अक्सर आप जब भी पेट्रोल पंप पर अपने वाहन में तेल भरवाने के लिए जाते होंगे, तो कई बार पेट्रोल पंप पर तेल कम मिलने या फिर घटौतली की शिकायतें करते हुए है आपको दिख जाएंगे। कई बार पेट्रोल पंपों पर मीटर में खराबी की भी शिकायतें अक्सर सुनने को मिल ही जाती है। इन्ही सारी समस्याओं को देखते हुए लखनऊ में इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन ने अपने सभी पेट्रोल पंपों को ऑटोमेटेड सिस्टम (Automated Systems) से जोड़ रहा है। लखनऊ में 104 पेट्रोल पंप ऑटोमेटेड (Automated) कर दिए गए हैं। इस तरह लखनऊ मंडल के 8 जिलों में कुल 542 पंप ऑटोमेटेड किये जा चुके हैं।

पंपो पर कीमत और फ्यूल मात्रा अब नहीं की जा सकेगी गड़बड़ी


इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन (आईओसी) के जिम्मेदारों का दावा है कि इन पंपो पर कीमत और फ्यूल मात्रा में कोई गड़बड़ी नहीं की जा सकेगी। इससे घटौतली की आशंका भी नहीं रहेगी।इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन (आईओसी) के यूपी मीडिया प्रभारी सरबजीत सिंह ने बताया, कि पूरे प्रदेश में इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन (आईओसी) के करीब 30, 000 पेट्रोल पंप ऑटोमैटिक हो चुके हैं। मुंबई में बैठी तकनिकी टीम इन पंपो की हर गतिविधि पर नजर रखेगी। इसके साथ यह भी तय किया जाएगा कि ईंधन भरने से पहले मीटर की शुरुआत 0 से ही हो, इसके साथ ही तेल भरवाने के बाद ई-रसीद भी मिलेगी। सरबजीत सिंह ने कहा कि कम ईंधन मिलने या फिर ज्यादा कीमत चुकाने की लगातार हमें शिकायतें मिल रहीं थी। मीटर से छेड़छाड़ या फिर कीमतों को लेकर धोखाधड़ी शामिल है। इन सभी शिकायतों को देखते हुए हमने यह कदम जनता के हित मे उठाया है, और इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन (आईओसी) के सभी पेट्रोल पंप ऑटोमैटिक करने का निर्णय लिया।