लखनऊ में कोरोना के सक्रीय मामले अब 600 से निचे आ चुके है। इन आंकड़ों से यह मालूम पड़ता है कि लखनऊ में अब कोरोना का प्रकोप पहले से कम है और बेहद नियंत्रित है। आज लखनऊ में 24 घंटे में कोरोना के कुल 50 नए मामले मिले। बीते 24 घंटे में 3 लोगों की वायरस के कारण मृत्यु हुई।


वर्तमान में जिले में कोरोना के 592 कुल सक्रीय मामले मौजूद है, जिनका इलाज जारी है। वहीं राज्य सरकार की गाइडलाइन का पालन करते हुए लखनऊ के जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश ने लखनऊ को अनलॉक करने का आदेश जारी कर दिया है। बुधवार से लखनऊ के सभी बाजार और दुकानें खोली जाएंगी। इस दौरान कोविड नियमों का सख्ती से पालन करना होगा। जिले में सुबह 7 बजे से शाम 7 बजे तक बाजार खोले जाएंगे। हालांकि, सिनेमाघर, मॉल और जिम पर पाबंदी लगी रहेगी। वहीं, रेस्टोरेंट खोलने की अनुमति तो रहेगी लेकिन वहां बैठकर खाने की अनुमति नहीं होगी। रेस्टोरेंट से केवल होम डिलीवरी की जा सकेगी। रात्रिकालीन कर्फ्यू और वीकेंड कर्फ़्यू पहले की तरह लागू रहेगा

9 जून से फिर से शुरू होगी लखनऊ मेट्रो

लखनऊ में बुधवार से कर्फ्यू में ढील के तहत शहरवासियों को रैपिड मेट्रो यात्रा (rapid metro travel) की सुविधा दी जाएगी। प्रारंभ में, सीसीएस-मुंशुपुलिया मार्ग ( CCS-Munshupulia route) के साथ सभी सेवाएं सुबह 7 बजे से 12 घंटे के लिए उपलब्ध होंगी। आखिरी ट्रेन को दोनों टर्मिनलों से शाम 7 बजे हरी झंडी दिखाई जाएगी।

कोरोना वायरस की दूसरी लहर में कमी को देखते हुए, सरकार ने लोगों के लाभ के लिए सावधानी के साथ लखनऊ मेट्रो के संचालन को फिर से शुरू करने की अनुमति दी है। मेट्रो कॉरपोरेशन अपने यात्रियों के लिए प्रमुख सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए एक स्थापित स्वच्छता प्रणाली की सुरक्षा पर निर्भर करेगा। यूपीएमआरसी (UPMRC) मेट्रो सेवा को शुरू करने से पहले अपने सभी मेट्रो स्टेशन को बेहद अच्छी से यात्रियों के लिए स्वच्छ किया है ताकि यात्रियों में किसी प्रकार का संक्रमण न फैले।

यूपीएमआरसी ने घोषणा की है कि वह सीधे प्रसारण के खतरे को कम करने के लिए स्टेशन परिसर और यहां तक ​​कि टोकन टिकटों को साफ करने के लिए विशेष यूवी लैंप का उपयोग कर रही है। इसके अलावा, मेट्रो स्टेशनों और अन्य उच्च-संपर्क सतहों पर अन्य स्वच्छता उपायों को भी सभी के लिए एक सुरक्षित और स्वच्छ यात्रा अनुभव प्राप्त करने के लिए अक्सर आयोजित किया जाएगा। यात्रियों को भी अपनी यात्रा के दौरान सभी COVID-19 उपयुक्त प्रोटोकॉल का पालन करना होगा।