अपने परोपकार कार्यों के लिए विश्व भर में प्रसिद्द सिख समुदाय एक बार फिर लखनऊ में आम जनता की मदद के लिए आगे आया है। बुधवार को सदर गुरुद्वारा प्रबंधक कमिटी ने उम्मीद और इंसानियत फॉउण्डेशन के सामाजिक संगठनों के साथ मिलकर निःशुल्क शव वाहन की सुविधा शुरू की है ताकि अपनों को खोने वाले शव वाहन के लिए इधर उधर न भटकें।

अभी शहर में 2 वैन कार्यरत हैं


बुधवार को प्रार्थना के बाद इस सुविधा को आयोजकों के द्वारा जनता के लिए संचालित किया। इस कठिन समय में जब लोग अपने परिवार के सदस्य अपने प्रियजनों को अंतिम विदाई देने में हिचकते हैं, ऐसे मुश्किल समय में उम्मीद संस्था और इंसानियत फॉउण्डेशन ने इस ज़िम्मेदारी को अपने कन्धों पर ले लिया है। इस पहल के ज़रिये लोगों की मदद करने के लिए इस समय शहर में दो शव वाहन कार्यरत हैं। इसके अलावा वालंटियर्स से संपर्क करने के लिए नंबरों की एक सूची जारी की है।

पीपीई किट, मास्क और सैनिटाइजर के साथ सेवा के लिए तत्पर है वॉलंटियर्स


यह सुविधा मुफ्त है और वैन पीपीई किट, मास्क और सैनिटाइजर जैसे आवश्यक सुरक्षा उपकरणों से मृतक के परिवार और वॉलंटियर्स के लिए सुसज्जित है। जैसे ही हमे मरीज के न रहने की सूचना मिलती है हम वैसे ही स्थान पर पहुंच जाते हैं, और मृत शरीर और परिवार के सदस्यों को जो हमारे साथ चलना चाहते हैं उन्हें लेकर शमशान घाट या फिर कब्रिस्तान के लिए रवाना हो जाते हैं, और वहां उनके धर्म के अनुसार पूरे विधि विधान से अंतिम संस्कार करने में परिवारों की मदद करते हैं। परिवार के किसी सदस्य के ना होने पर, हम अंतिम संस्कार करते हैं। गुरुद्वारा सदर (गुरुद्वारा श्री गुरु नानक सत्संग सभा) के अध्यक्ष हरपाल सिंह जग्गी ने बताया, पहले दिन हमें शहर के दक्षिण ओर और आस-पास के क्षेत्रों से कुछ फोन आए, यह सुविधा सुबह 10 बजे से शाम 5 बजे के बीच उपलब्ध रहेगी। हमने सभी लोगों से सामर्थ्य के अनुसार जरूरतमंदो की मदद करने का प्रण लिया है।

समिति के अनुसार वाहन सेवा के लिए इन नंबरों पर फोन करें

7607188882

9335933633

9651133333

7275727271