कोरोना संक्रमण के भयावह परिणामों ने हम सभी को अपनी गिरफ्त में ले लिया है, लेकिन ऐसी कठिन और बेबस परिस्थितियों में लोगों के परोपकार, करुणा और मानव जीवन के प्रति संवेदना ने हम सबके मन में इंसानियत के प्रति विश्वास बढ़ा दिया। जहां एक तरफ कोरोना महामारी ने हमे एक दुसरे से दूरी बनाये रखने पर मजबूर कर दिया वहीं हम सब पहले से अधिक एकजुट होकर इस संक्रमण के खिलाफ लफाई लड़ रहे हैं। संक्रमण की शुरुआत से लेकर अभी तक अनगिनत प्रयास किये जा रहे हैं, और बहुत सारे लोग निःस्वार्थ भाव से दूसरों की सहायता के लिए आगे आये हैं। अब आपके पास एक मौका है 'ग्लोबल क्योर प्रोजेक्ट' (ProjectGlobalCure) से जुड़ने का और प्रत्येक जरूरतमंद के लिए मेडिकल सहायता उपलब्ध कराकर कोरोना की घातक परिणामों को कम करने का।

कोरोना संक्रमण के खिलाफ एकजुट होकर खड़े हैं


प्रोजेक्ट ग्लोबल क्योर भारत का पहला कोविड रिलीफ फण्ड कैंपेन है जो सभी को किफायती और आसान मेडिकल लाभ देने के साथ, मानवजाति को रोगमुक्त करने के उद्देश्य से काम कर रहा है। 'मिलाप' प्लेटफॉर्म के साथ यह फोरम देश की पहली महामारी में सहायता करने वाली एजेंसी है। और अब आप भी वायरस के खिलाफ एक मजबूत फोर्स तैयार करने के लिए उनकी #ProjectGlobalCure पहल में शामिल हो सकते हैं।

इस एजेंसी ने अभी तक भारत के लगभग 41,000 परिवारों का सहयोग किया है। अनेक भोजन अभियान और राहत प्रोग्रामों के ज़रिये इन परिवारों की मदद की गयी। प्रोजेक्ट पार्टनर्स और पैट्रन्स के माध्यम से हर संभव तरीके से लोगों की सहायता की गयी। लोकल विक्रेताओं के ज़रिये दूर दराज़ के क्षेत्रों में आवश्यक सामान और सुविधाएं भी पहुंचाई गयीं और इन लोकल विक्रेताओं ने डिलीवरी की चेन को बढ़ावा दिया और ग्रामीण क्षेत्रों तक सहायता पहुंचाने में अपना योगदान दिया।

आइए मिलकर इस महामारी का मुकाबला करें

कोरोना वायरस संक्रमण की दूसरी लहर ने हम सबको झकझोर कर रख दिया और उससे उत्पन्न समस्याएं दिन प्रतिदिन बढ़ रही हैं। ऐसी ही विषम स्थिति में आपके सहयोग की ज़रुरत है, और हर तरह का छोटा या बड़ा सहयोग बहुत महत्वपूर्ण है। यही वह समय है जब हम सब को मिलकर जल्द से जल्द इस स्थिति से निजात पानी होगी क्यूंकि रिकवरी का रास्ता लम्बा है और तेज़ प्रयासों के ज़रिये ही पार किया जा सकता है।

समाज के हर एक व्यक्ति से अनुरोध है की वे एक साथ आएं और कोरोना के विरुद्ध लड़ाई में योगदान दें। आप दान के माध्यम से अपना समर्थन दे सकते हैं, जिसका उपयोग फ़ूड सप्लाई, ऑक्सीजन सप्लाई, चिकित्सा सुविधाओं, एम्बुलेंस और अन्य परिवहन सुविधाओं के साथ-साथ दूर दराज़ के इलाकों में चिकित्सा व्यवस्था के लिए किया जाएगा।

आप अब https://milaap.org/fundraisers/support-india पर दान कर सकते हैं और इस गंभीर आपात स्थिति के बीच लोगों के जीवन बचाने में मदद करने के लिए #ProjectGlobalCureSavingIndia से जुड़ सकते हैं।

प्रोजेक्ट ग्लोकल केयर - दान

यहां उनके YouTube और Facebook हैंडल देखें।