टीकाकरण के लिए लोगों को प्रोत्साहित करने के लिए लखनऊ गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी ने टीकाकरण अभियान की सुविधा के अलावा लंगर सेवा भी शुरू की है। इस पहल के तहत नाका हिंडोला गुरुद्वारा में लाभार्थियों को टीकाकरण के साथ-साथ मुफ्त भोजन भी उपलब्ध कराया जा रहा है। कथित तौर पर, इस गुरुद्वारे में सोमवार से शनिवार तक 18-44 आयु वर्ग के नागरिकों के लिए टीकाकरण अभियान चलाया जा रहा है, और लगभग 300 से 400 व्यक्ति प्रतिदिन लंगर में भाग लेते हैं।

इस केंद्र पर एक महीने के भीतर 15,000 से अधिक लोगों का टीकाकरण किया गया

रिपोर्ट के अनुसार, एक अधिकारी ने बताया कि इस सुविधा में टीकाकरण कार्यक्रम 13 जून को शुरू हुआ था। जहां टीकाकरण कार्यक्रम पूरे दिन आयोजित किया जाता है, वहीं लंगर हर दिन दोपहर के दौरान आयोजित किया जाता है।

कथित तौर पर, पहले दिन 300 व्यक्तियों को टीका लगाया गया था और जुलाई की शुरुआत से लाभार्थियों की संख्या बढ़कर 1,000 हो गई है। इस सुविधा में एक महीने के भीतर कुल मिलाकर 15 हजार से अधिक लोगों को इम्युनिटी बूस्टर वैक्सीन लगाई गई और अब 800 दैनिक टीकाकरण किए जा रहे हैं।

उल्लेखनीय है कि इस कार्यक्रम की देखरेख जिला स्वास्थ्य केंद्र ऐशबाग के चिकित्सा अधिकारी कर रहे हैं। गुरुद्वारे के एक अधिकारी ने बताया कि इस केंद्र में 1898 से लंगर सेवाएं काम कर रही हैं। अब, यह सुविधा नागरिकों को टीकाकरण अभियान के लिए आकर्षित करने का काम कर रही है।

सदर गुरुद्वारे में हो रहा आरटी-पीसीआर टेस्ट और टीकाकरण

कथित तौर पर, सदर गुरुद्वारा में 1 मई से आरटी-पीसीआर परीक्षण किए जा रहे हैं। रिपोर्ट के अनुसार, गुरुद्वारा प्रमुख ने बताया कि इस केंद्र पर लगभग 5,000 व्यक्तियों का परीक्षण किया गया है। इसके अतिरिक्त, यहां 25 जून को टीकाकरण अभियान शुरू किया गया था और अब तक 6,000 से अधिक लोगों को टीका लगाया जा चुका है। इस सुविधा पर, गुरुद्वारा के अधिकारी लंगर की सामान्य प्रथा के अलावा लाभार्थियों को जूस और चाय उपलब्ध करा रहे हैं।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *