यूपी के नॉएडा में ड्राइवथ्रू टीकाकरण की सफलता के बाद उत्तर प्रदेश प्रशासन अब 14 और जिलों में ऐसे केंद्र स्थापित करने का प्रयास कर रहा है। नागरिकों को कोरोना का मुफ्त टीका लगाने के साथ, ये केंद्र लखनऊ, कानपुर, वाराणसी और प्रयागराज सहित क्षेत्र के अन्य शहरों में स्थापित किए जाएंगे। परिवार कल्याण विभाग ने प्रक्रिया की शुरुआत करते हुए संबंधित शहरों के मुख्य चिकित्सा अधिकारियों से इस संबंध में प्रस्ताव की मांग की है।

 पर्याप्त पार्किंग सुविधाओं वाले स्थानों में टीकाकरण केंद्र बनाया जाएगा 

अधिकारी पहले तो प्रस्तावों की जांच करके ये देखेंगे की सभी प्रावधान मौजूद हैं या नहीं। यह बात अनिवार्य है कि वाहनों की पार्किंग के लिए पर्याप्त जगह उपलब्ध होने पर ही योजनाओं को आगे बढ़ाया जाएगा। यह बात आवश्यक है क्योंकि टीका लगवाने वाले व्यक्तियों को खुराक प्राप्त करने के बाद आधे घंटे तक अपनी कारों में इंतजार करना होगा। टीकाकरण प्रोटोकॉल के अनुसार, टीका लगने के बाद किसी भी प्रकार के रिएक्शन की संभावनाओं को दूर करने के लिए नागरिकों की 30 मिनट तक निगरानी की जानी चाहिए।

डायरेक्टर जनरल (परिवार कल्याण) राकेश दुबे ने कहा, ‘फिलहाल हम लखनऊ, वाराणसी, कानपुर, प्रयागराज, गाजियाबाद, मुरादाबाद, बरेली, मेरठ, झांसी, आगरा, मथुरा, सहारनपुर, अयोध्या और गाजियाबाद में यह सुविधा शुरू करने की तैयारी कर रहे हैं। सब कुछ ठीक रहा तो जून के पहले सप्ताह के बाद इन शहरों में कार में बैठकर टीका लगवाने की सुविधा शुरू हो सकती है। यह ध्यान दिया जाना चाहिए कि विकसित शहरों के प्रस्तावों को ही स्वीकार किया जाता है, जहां पर्याप्त पार्किंग स्थल उपलब्ध होंगे।

समय औरलोगों के बीच  संपर्क को कम करने में सहायता करेंगे ड्राइव-थ्रू केंद्र सेंटर 

ड्राइवइन टीकाकरण सेंटरों के शुरू होने से लोगों का समय बचेगा और लोग बाहरी संपर्क में आये बिना आसानी से टीका लगवा सकेंगे। जबकि केंद्रों पर लाभार्थियों की लंबी लाइनों को रोका जा सकेगा, इस पहल से कमजोर व्यक्तियों के टीकाकरण में भी मदद मिलेगी। इसके अलावा, वरिष्ठ नागरिक अब अपनी कारों में आराम से बैठकर टीका लगवा सकेंगे।

राज्य टीकाकरण अधिकारी अजय घई ने कहा कि सरकार टीकाकरण का दायरा बढ़ाने के लिए नई परियोजनाओं पर काम कर रही है। स्टॉक की पर्याप्त उपलब्धता की जानकारी देते हुए उन्होंने कहा कि राज्य के सभी जिलों में जून से 18-44 के लिए टीकाकरण अभियान शुरू किया जाएगा.

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *