यातायात व्यवस्था को सुधारने के लिए लखनऊ समेत प्रदेश के अन्य जिलों में इंटीग्रेटेड ट्रैफिक मैनेजमेंट सिस्टम (आइटीएमएस) की व्यवस्था को लागू किया गया था। इस व्यवस्था के तहत चौराहों को स्मार्ट ट्रैफिक मैनेजमेंट सिस्टम से जोड़ा गया ताकि ट्रैफिक को बिना किसी परेशानी से आसानी से चलाया जा सके और चौराहों पर भीड़ कम हो जाम न लगे। लेकिन इस व्यवस्था को लागू करने के बाद भी चौराहों पर जाम की समस्या से मुक्ति नहीं मिल पा रही है, जिसके चलते ट्रैफिक पुलिस अब एक बड़ा बदलाव करने जा रही है। लखनऊ में अब शहर के चौराहों पर इंटीग्रेटेड ट्रैफिक मैनेजमेंट सिस्टम (आइटीएमएस) के तहत लगे सीसीटीवी कैमरों के जरिए ट्रैफिक कंट्रोल किया जाएगा।

ट्रैफिक लोड के हिसाब से बदलगे सिग्नल 

इससे चौराहों पर ट्रैफिक लोड के हिसाब से सिग्नल बदलेगा और लोगों को ज्यादा इंतजार नहीं करना होगा। अफसरों के मुताबिक, फिलहाल 140 चौराहों पर इस तकनीक से ट्रैफिक संचालन किया जाने लगा है। शहर में पहले चौराहों पर सिग्नल का समय तय था। ऐसे में किसी रास्ते पर ट्रैफिक कम होने के बाद भी दूसरे रास्ते पर खड़े वाहनों को लंबा इंतजार करना पड़ता था। लोगों को इस समस्या से निजात दिलाने के लिए अब कैमरों के जरिए सिग्नल का समय बदला जाने लगा है। डीसीपी ट्रैफिक रईस अख्तर के मुताबिक, यह व्यवस्था पूरी तरह शुरू होने पर ट्रैफिक सिग्नल पर प्रतीक्षा समय में काफी कटौती होने की उम्मीद है और लोगों का समय खराब नहीं होगा। आपको बता दें की यह पूरा सिस्टम ट्रैफिक कंट्रोल रूम से जुड़ा है और इसकी 24 घंटे निगरानी होती है। 

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *