लखनऊ के अमौसी एयरपोर्ट अब बड़े विमान उतरेंगे। इसके लिए रनवे के विस्तार की तैयारी शुरू हो गई है। इसके लिए कैटेगरी 9 का नया अग्निशमन स्टेशन बनाया जाएगा। अग्निशमन वाहनों की संख्या बढ़ाने के बाद ही बड़े विमान उतारने का सिलसिला शुरू हो सकेगा। इस अग्निशमन स्टेशन के लिए रनवे तक आग बुझाने के उपकरण लगाए जाएंगे, जिस पर करीब 30 करोड़ रुपये का खर्च आएगा।

3 किलोमीटर से अधिक होना चाहिए रनवे 

जानकारी में आया है कि ड्रीमलाइन जैसे बड़े विमान को उतारने के लिए उनके कार्गो और अन्य लोड को कम करने की शर्त रहती है। रूस, यूरोप, अमेरिका की उड़ान छोटा रनवे के कारण शुरू नहीं हो सकती। जिनकी छमता 300 यात्रियों की होती है। मौजूदा रनवे 2.74 किलोमीटर का है। जबकि इस रनवे को 3 किलोमीटर से अधिक होना चाहिए तभी बड़े विमान यहां उतर पाएंगे। अग्निशमन मानकों के तहत वाहनों को 10 साल में बदल जाना चाहिए। जबकि पिछली बार वर्ष 2010-11 में अग्निशमन वाहन खरीदे गए थे। इन वाहन की अवधि पूरी हो चुकी है। इनमें से 3 वाहन मानकों के बाहर हो रहे हैं। 

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *