लखनऊ में एलडीए में अब अपनी टाउनशिप लेकर आने वाला है। अंसल एपीआई की हाईटेक टाउनशिप का एरिया कम होने के बाद करीब 2600 एकड़ जमीन पर एलडीए अपनी योजना लाएगा। वहीं मोहान रोड योजना से ओमेक्स को हटाने की भी तैयारी है। एलडीए वीसी अक्षय त्रिपाठी ने दोनों ही प्रस्तावों पर नियोजन विभाग और वित्त नियंत्रक से रिपोर्ट मांगी है। इधर, प्रबंधनगर योजना में भी लैंडपूलिंग या मुआवजा से अधिग्रहण शुरू करने के लिए वीसी ने कहा है।

लखनऊ को मिल सकती है अच्छी आवासीय योजना

वीसी ने बताया लखनऊ को नई आवासीय योजनाओं की जरूरत है। ऐसे में बीते बृहस्पतिवार को एक बैठक बुलाई गई थी। इसमें अधिकारीयों से वार्ता के बाद अंसल एपीआई से खाली हो रही जमीन पर एलडीए की टाउनशिप लाने के प्रस्ताव पर सहमति बनी है। इन जमीनों का रिकॉर्ड बिल्डर से लेकर एलडीए यहां अपनी योजना पर काम शुरू करेगा। आउटर रिंगरोड, हाईटेक गोल्फ सिटी टाउनशिप, सुल्तानपुर रोड की मौजूदगी को देखते हुए यह लखनऊ के लिए एक अच्छी आवासीय योजना साबित हो सकती है। इसके साथ ही पूर्व में सहारा का हाईटेक टाउनशिप का लाइसेंस निरस्त होने के बाद खाली हुई जमीन पर भी लैंडपूलिंग का काम तेज करने के लिए अधिकारीयों से कहा गया है।

एलडीए वीसी का कहना है की एलडीए ने मोहान रोड योजना में 10 साल पहले करीब 650 करोड़ रुपये मुआवजा बांटा। अब आज से विकास कार्य पूरे होने में लगने वाले अगले 10 साल के बाद भी करीब 1600 करोड़ रुपये का रिटर्न वहां से मिलना फायदे का सौदा नहीं लगता। इसलिए दोबारा से परिक्षण करने की जरूरत है। ऐसे में वित्त नियंत्रक से एक तुलनात्मक रिपोर्ट मांगी गई है की अगर एलडीए इस योजना पर काम करे तो क्या वित्तीय स्तिथि बनेगी।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *