लखनऊ में प्रशासन अब शहर के 3 प्रमुख शमशान घाटों का कायाकल्प करने जा रहा है। शमशान घाटों का अब सौन्दर्यीकरण भी किया जाएगा। इसके लिए करीब 7 करोड़ रूपये से अधिक का बजट खर्च किया जाएगा और टेंडर प्रक्रिया भी जल्द शुरू की जाएगी। इसके साथ ही श्मशान घाटों पर बैठने और पार्किंग आदि की समस्याएं दूर की जाएंगी।

हाल ही में कोरोना की दूसरी लहर के दौरान मौतों की तादाद बढ़ने के बाद शमशान घाटों पर कई तरह की समस्याएं सामने आई थी। पुराने लखनऊ के इलाके में पड़ने वाले गुलालघाट के सौन्दर्यीकरण को लेकर महापौर भी निर्देश दे चुकी हैं। वहां पर बेंच, पेयजल, शौचालय आदि भी बनाए जाएंगे।

लखनऊ के प्रसिद्ध बैकुंठ धाम पर अभी सड़क किनारे बनाए गए चौड़े फुटपाथ पर ही गाड़ियां खड़ी होती हैं। वाहन अधिक होने पर सड़क की दूसरी पटरी पर भी गाड़ियां खड़ी करनी पड़ती हैं। कई बार ऐसा भी होता है की इस सड़क पर भारी जाम की समस्या पैदा हो जाती है, जिससे राहगीरों को परेशानी का सामना करना पड़ता है और समय भी ख़राब होता है। इसी समस्या को देखते हुए अब यहां विद्युत शवदाह गृह के बीच खाली जमीन पर पार्किंग का निर्माण किया जाएगा।

सभी प्रमुख शमशान घाटों के लिए बजट भी जारी कर दिया है।

बैकुंठ धाम अंतिम संस्कार स्थल – 3.98 करोड़

वीआईपी रोड आलमबाग अंतिम संस्कार स्थल – 1.65 करोड़

गुलालघाट अंतिम संस्कार स्थल – 1.70 करोड़

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *