कोरोना माहमारी से उत्पन्न विषम परिस्थितियों के दौरान लखनऊ शहर के गुरुद्वारे लोगों की सहायता के लिए शुरुआत से तत्पर हैं। कोरोना में लोगों की मदद करने के लिए गुरुद्वारों के द्वारा कई जीवनरक्षक लंगर आयोजित किये जा रहे हैं जिनमें खाना,ऑक्सीजन और मेडिकल सुविधाएं प्रदान की जा रही हैं। अब शहर के आलमबाग इलाके का केंद्रीय सिंह सभा गुरुद्वारा इन लंगरों के दायरे को बढ़ाकर लखनऊ के आस पास के ग्रामीण इलाकों में भी चला रहा है।

लोगों की सेवा में लगे हुए हैं लखनऊ के गुरुद्वारे 

शुक्रवार को लखनऊ की मेयर संयुक्त भाटिया के हरी झंडी दिखाने के बाद मेडिकल संसाधनों से भरी ट्रक आलमबाग गुरुद्वारे से रायबरेली की ओर रवाना हुई। रिपोर्ट के अनुसार इस ट्रक में लखनऊ की सोनू सूद संस्था और विश्वास ट्रस्ट द्वारा प्रदान किये गए ऑक्सीजन कॉन्सेंट्रेटर और दवाइयों की किटें मौजूद थीं।

‘ऑक्सीजन लंगर सेवा’, यानी की सिख समुदाय द्वारा मेडिकल ऑक्सीजन सेवा को लखनऊ, उन्नाव, हरदोई, सीतापुर, अयोध्या सहित राज्य भर के कई गुरुद्वारों में शुरू किया गया है। लखनऊ शहर की कई ब्लॉकों व तहसीलों में भी मेडिकल ग्रेड ऑक्सीजन की मांग पूरी की जा रही है और इससे ग्रामीण क्षेत्रों में भी महामारी से पीड़ित नागरिकों को आवश्यक संसाधन उपलब्ध कराने में मदद मिली है।

इसके अलावा लखनऊ के यहियागंज गुरुद्वारे ने भी सड़क के किनारे रहने वाले ज़रूरतमंद रिक्शेवाले और मजदूरों के लिए भी लंगर सुविधा शुरू की है और कोरोना के लिए  जागरुक्ता और इलाज की सुविधाएं भी यहाँ दी जा रही हैं।

गुरुद्वारा प्रबंधन समिति द्वारा आयोजित सुविधाओं के बारे में कमेटी के अध्यक्ष राजेंद सिंह बग्गा ने बताया कि गुरुद्वारा नाका हिंडोला में गरीबों के लिए खाने की सुविधा प्रदान कर रहा है और गुरुद्वारा सदर में भी सक्रमितों के लिए निःशुल्क मेडिकल इलाज चला रहा है। गुरुद्वारा सदर के अध्यक्ष हरपाल जग्गी ने बताया कि लंगर के साथ निःशुल्क चिकित्सा सेवा और कोरोना जांच कराई जा रही है।

घर में आइसोलेटेड कोरोना संक्रमित मरीज़ों के लिए निःशुल्क लंगर सेवा चल रही है। लखनऊ ही नहीं आसपास के जिलों का कोई भी व्यक्ति मोबाइल नंबर 9670888333 व 9554822225 पर संपर्क कर मदद ले सकता है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *