अगर आप भी इस गर्मी में बिना कोई डाइटिंग किए एक सुडौल और फिट शरीर पाना चाहते हैं, तो हम आपको बताना चाहेंगे कि ऐसा बिल्कुल संभव है, और अब आपको मनचाहे फिटनेस गोल्स प्राप्त करने के लिए भूखा रहने या बेस्वाद सलाद खाने की भी कोई ज़रूरत नहीं है। एक फिट और टोन्ड बॉडी पाने की इच्छा रखने वाले सभी लोगों को आज हम, न्यूट्रिशनिस्ट (पोषण विशेषज्ञ) राकेश तिवारी के बारे में बताना चाहेंगे, जो वजन घटाने की यात्रा के दौरान आपका सही मार्गदर्शन करेंगे और आपको अपने स्वास्थ्य और पोषण के साथ कोई समझौता नहीं करना पड़ेगा।

डाइटिंग के डर को कहे अलविदा!

एक सर्टिफाईड न्यूट्रिशनिस्ट और फिटनेस कोच, राकेश तिवारी आईआईटी में पीएचडी छात्र हैं, जो कार्डियोवैस्कुलर बायोलॉजी पर काम कर रहे हैं। विश्वविद्यालय में रहते हुए, उन्होंने मधुमेह से लेकर मोटापे तक के रोगियों में जीवनशैली संबंधी बीमारियों की प्रवृत्ति देखी। इससे न्यूट्रिशन के क्षेत्र में उनकी रुचि बढ़ी और उन्होंने ऐसी समस्याओं के लिए समाधान तलाशना शुरू किया।

राकेश अब न्यूट्रिशनिस्ट के रूप में लोगों का मार्गदर्शन करते हैं, और साथ ही वजन घटाने या डाइटिंग से संबंधित मिथकों और गलत धारणाओं को दूर भी करते हैं। उनके अनुसार, स्वास्थ्य और पोषण से संबंधित गलत विचार हमारे समाज को गुमराह कर रहे हैं, और हमारे शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य दोनों को प्रभावित कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि जहां कुछ लोग उपवास और भोजन छोड़ने के विचार से अपनी फिटनेस यात्रा शुरू करने से डरते हैं, वहीं अन्य लोग भोजन से परहेज कर रहे हैं और इसके परिणामस्वरूप लोगों के शरीर को आवश्यक पोषक तत्व नहीं मिल पा रहे जो चिंता का विषय है।

विज्ञान द्वारा आजमाया, परखा और सिद्ध किया गया!

राकेश कहते हैं, हमारी वर्तमान जीवनशैली ऐसी है कि बिना पोषक तत्वों के वजन बढ़ाना बहुत आसान है और इस समस्या को वजन घटाने के विज्ञान द्वारा हल किया जा सकता है। उनका दृष्टिकोण भूखे रहने वाले डाइट प्लान से बहुत दूर है, जिनका प्रचार अक्सर मशहूर हस्तियों द्वारा किया जाता है। तो अब आपको किसी प्रकार की आकर्षक या फैंसी डाइट से प्रभावित होने की ज़रूरत नहीं है, आप राकेश तिवारी द्वारा अपने लिए एक, शोध-आधारित, कस्टमाइज़्ड डाइट प्लान प्राप्त कर सकते हैं!

एक बार जब आप यहां नामांकित हो जाते हैं, तो राकेश जी के पास आपको एक बेहद सरल नामांकन प्रक्रिया से गुज़रना होता है। न्यूट्रिशन कोच के साथ एक परिचयात्मक सत्र उन्हें आपके मेडिकल इतिहास, मौजूदा डाइटिंग प्लान और जीवनशैली को समझने में मदद करता है। इसके आधार पर, वह एक व्यक्तिगत आहार चार्ट (personal diet chart) तैयार करते हैं जो उनकी व्यक्तिगत कैलोरी आवश्यकता (individualised calorie requirement) के अनुरूप होता है। इतना ही नहीं, इस डाइट प्लान का अनुसरण करना भी आसान है और इसे हर हफ्ते अपग्रेड किया जाता है, जिससे इसके परिणाम कितनी तेजी से दिखने लगते हैं।

इसके साथ ही वह आपके भोजन विकल्पों, खाने की आदतों और समग्र शारीरिक स्वास्थ्य का भी हिसाब रखता है। “इसका मतलब है, सही कोच और सही प्लान के साथ, आपको कार्ब्स, फैट या भोजन छोड़ने की ज़रूरत नहीं है। फिट रहने का संबंध केवल भोजन से नहीं है, बल्कि भोजन की मात्रा से है। आप एक दिन में जितनी भी मात्रा में कैलोरीज ले रहे हैं, उससे अधिक कैलोरी जलाने पर ही आपका वजन कम होगा। ऊर्जा संतुलन (Energy balance) आपके फिटनेस लक्ष्यों की ओर पहला कदम है।”, तिवारी जी ने कहा।

उन्होंने कहा कि लॉकडाउन के बाद से इसे तेजी से प्रमुखता मिली है क्योंकि लोग जिम नहीं जा सकते हैं और शारीरिक व्यायाम के लिए इधर-उधर नहीं जा सकते हैं। ऐसे समय में ऊर्जा की खपत को नियंत्रित और संतुलित करना आवश्यक है।

हम लोग यह कहना चाहते हैं कि

अगर लॉकडाउन और वर्क फ्रॉम होम की स्थिति आपके स्वास्थ्य को प्रभावित कर रही है, और आप वज़न घटाने के लिए खाना छोड़ कर और उपवास करते-करते थक गए हैं, तो राकेश.फिट (rakesh.fit) से सलाह लेना आपके लिए सबसे अच्छा उपाय है। आप इंस्टाग्राम पर राकेश को फॉलो करके वजन घटाने, रोगों की रोकथाम के विज्ञान को सही से समझ सकते हैं, क्योंकि वह हर दिन लोगों को जागरुक करने के लिए नए सुझाव और जानकारी डालते हैं!

आप घर पर बैठ कर ही सारी जानकारी ऑनलाइन प्राप्त कर सकते हैं। आप यहां उनका इंस्टाग्राम पेज देख सकते हैं https://www.instagram.com/rakesh.fit/  और फिटनेस और स्वास्थ्य से संबंधित मुफ्त सलाह लेने के लिए आप इन्हें इंस्टाग्राम पर मैसेज भी भेज सकते हैं। 

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *