लखनऊ में संजीवनी अस्पताल और अनुसंधान केंद्र (Sanjivini Hospital and Research Centre), महामारी की घड़ी के बीच व्यापक मेडिकल सेवाओं का केंद्र बनकर उभरा है और इसने अपनी मेडिकल विशेषज्ञता को एक बार फिर साबित कर दिया है। अपने मौजूदा उपलब्धियों में एक और सफलता की कहानी जोड़ते हुए, यहां के बाल चिकित्सा और नियोनेटोलॉजी विभाग ने एक 23-दिन के शिशु का सफलतापूर्वक इलाज किया है, जिसमें एक अनुपस्थित गुदा उद्घाटन (absent anal opening) और “फूला हुआ पेट” (distended abdomen) का इलाज किया गया है।

संजीवनी में नवजात शिशुओं और बच्चों के लिए समर्पित इस विभाग ने लखनऊ में बच्चों के इलाज को आसान बना दिया है और इससे शहर की समग्र मेडिकल प्रतिष्ठा में भी वृद्धि हुई है।

संजीवनी की उपलब्धियों में एक और सफलता का पंख

तेज रोने और कराहने से इस नवजात बच्चे के दर्द का स्पष्ट रूप से पता चला। इसके बाद, 23 दिन के बच्चे को संजीवनी अस्पताल के आपातकालीन कक्ष में ले जाया गया। तब यह पता चला की बच्चे को एक अनुपस्थित गुदा उद्घाटन और एक “विस्तारित पेट” की समस्या है। उसके माता-पिता, बस्ती में तत्काल इलाज के लिए कई स्वास्थ्य देखभाल केंद्रों से परामर्श कर रहे थे, क्योंकि स्थिति दिन-ब-दिन बिगड़ रही थी।

बेहतर इलाज की सुविधा के लिए बच्चे के माता पिता की तलाश तब समाप्त हुई जब उसे संजीवनी अस्पताल और अनुसंधान केंद्र में भर्ती कराया गया, जहां 22 से अधिक वर्षों के संबंधित अनुभव वाले एक प्रमुख बाल रोग विशेषज्ञ डॉ. आशुतोष पांडे ने मामले को संभाला।

डॉ. आशुतोष पांडे ने बताया “बच्चे को इम्पेरफ़ोरेट एनस नामक एक स्थिति थी, जिसने मल के प्रवाह को प्रतिबंधित कर दिया और परिणामस्वरूप पेट फूल गया था। सभी जांचों के बाद, हमने स्थिति की गंभीरता को समझते हुए  एनेस्थीसिया के प्रभाव के साथ कोलोस्टॉमी प्रक्रिया को करने का फैसला किया, जो की इतने छोटे बच्चे के लिए एक हाई रिस्क सर्जरी है”।

इन सभी चुनौतियों के बावजूद, संजीवनी की विशेष टीम ने न केवल सर्जरी को सफलतापूर्वक लागू किया बल्कि बच्चे में महत्वपूर्ण पोस्ट-ऑपरेशन जटिलताओ को बढ़ने से भी प्रतिबंधित कर दिया। शिशु अब हस्ते खेलते और रोमांचक जीवन के लिए स्वस्थ हो रहा है।

नॉक नॉक

लखनऊ में संजीवनी अस्पताल और अनुसंधान केंद्र, बच्चों सहित सभी नागरिकों के लिए सहयोग और आशा की एक किरण बनकर आया है। यह सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल बच्चों में ‘तीसरी लहर’ की वृद्धि और बढ़ते संक्रमण को रोकने में  महत्वपूर्ण चिकित्सा सहायता के  केंद्र के रूप में कार्य करने के लिए तत्पर है।

इसलिए, यदि आप अपने बच्चे के लिए चिकित्सा देखभाल और सहायता की आवश्यकता महसूस करते हैं, तो संजीवनी अस्पताल से संपर्क करना अत्यधिक फायदेमंद हो सकता है। अधिक जानकारी के लिए, आप यहां क्लिक करके उनकी वेबसाइट देख सकते हैं या उनसे सीधे 0522-4232333 या 0522-3573895 पर संपर्क कर सकते हैं।

अंग्रेजी में यह लेख पढ़ने के लिए क्लिक करें- मुस्कान टेकवानी 

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *