मुख्य बिंदु

लखनऊ से दिल्ली जाने वाली शताब्दी एक्सप्रेस के किराये में बढ़ोतरी की गई है।
शताब्दी एक्सप्रेस के अनुभूति कोच का किराया 2095 रूपये है, वहीं तेजस एक्सप्रेस के एग्जीक्यूटिव क्लास का किराया 2321 रुपये 
अब शताब्दी एक्सप्रेस का किराया तेजस एक्सप्रेस के बराबर पहुंच गया है।
शताब्दी एक्सप्रेस में कैटरिंग की सुविधा के लिए यात्रियों को अलग से पैसे चुकाने होंगे।
वहीं, तेजस एक्सप्रेस में कैटरिंग की सुविधा टिकट में ही शामिल है

लखनऊ से चलकर दिल्ली को जाने वाली शताब्दी एक्स्प्रेस से सफर करने वाले यात्रियों को अब अपनी जेब और ढीली करनी पड़ेगी। रेलवे ने शताब्दी एक्स्प्रेस में बढ़ोतरी कर दी है जिससे शताब्दी का किराया लगभग तेजस एक्सप्रेस के बराबर हो चूका है।

शताब्दी एक्स्प्रेस की एसी चेयरकार का किराया 820 रुपये है, एग्जीक्यूटिव क्लास का किराया 1770 रूपये है और अनुभूति कोच का किराया 2095 रूपये है, लेकिन इसमें कैटरिंग की सुविधा शामिल नहीं है। यात्री को शताब्दी में कैटरिंग की सुविधा लेने के लिए 250 से 300 रुपये अलग से खर्च करने पड़ेंगे। वहीं, तेजस एक्सप्रेस की चेयरकार का किराया 1248 रुपये है और एग्जीक्यूटिव क्लास का किराया 2321 रुपये हैं, साथ ही इसमें कैटरिंग की सुविधा शामिल है।

कोरोना के कारण रेलवे ने बंद की थी पैंट्री

कोरोना काल के दौरान कोविड के केस बढ़ने पर रेलवे ने ट्रेनों से पैंट्रीकार में कुकिंग बंद कर दी थी। हालत सामान्य होने पर रेलवे ने पैक फ़ूड की सुविधा शुरू कर दी। लखनऊ जंक्शन से नई दिल्ली जाने वाली शताब्दी एक्सप्रेस के टिकट में कोविड से पहले कैटरिंग चार्ज शामिल रहता था। यह चेयरकार में 165 रुपये तथा एग्जीक्यूटिव अनुभूति क्लास में 185 रुपये था। रेलवे ने जब कैटरिंग हटाई तो यह दर टिकट से भी घटा दी। शुरुआत में टिकट सस्ता भी हुआ, लेकिन बाद में डयनमिक फेयर के चलते टिकट की दर फिर से बढ़ने लगी। अब तो शताब्दी का किराया तेजस के करीब पहुंचने को है, जबकि तेजस में हॉस्पिटैलिटी संग कैटरिंग भी मिलती है।

Read More :- रेलवे ने शुरू की वैष्णो देवी के लिए साप्ताहिक ट्रेन, वाराणसी से चलकर लखनऊ होते हुए पहुंचेगी कटरा

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *