लखनऊ में कोरोना संक्रमण के चलते अन्य स्वास्थ्य सम्बन्धी परेशानियों से जूझ रहे मरीज़ों को समय पर मेडिकल सहायता मिलने में बहुत मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। ऐसी कठिन परिस्थिति में गोमती नगर के विराज खंड स्थित 'संजीवनी अस्पताल एंड रिसर्च सेंटर' (Sanjivini Hospital & Research Centre) अपनी विशिष्ट मेडिकल सुविधाओं और अनुभवी सेवाओं के माध्यम से सभी नॉन कोविड मरीज़ों का इलाज कर रहे हैं। विभिन्न प्रकार की शारीरिक परेशानियों वाले मरीज़ों का इलाज करने के अलावा यह सुपर-स्पेशिएलिटी अस्पताल कोरोना के बाद मरीज़ों को होने वाली परेशानियों का भी बखूबी इलाज कर रहा है।

सभी स्वास्थ्य समस्याओं के लिए विशेष स्पेशलाइज्ड विभाग


25 सालों से भी अधिक समय से कार्यात्मक 'संजीवनी अस्पताल एंड रिसर्च सेंटर' अब विशेष स्पेशलाइज्ड विभागों के साथ एक अल्ट्रा मॉडर्न सेंटर बन चुका है। अपने सालों के अनुभव के साथ संस्थान ने बड़ी संख्या में मरीज़ों की सहायता की है और उन्हें उत्तम उपचार प्रदान करके जीवन जीने के लिए बेहतर स्वास्थय प्रदान किया है। इस समय अस्पताल नॉन कोविड मरीज़ों की समस्याओं की एक विस्तृत जांच और उपचार के माध्यम से सहायता कर रहा है।

अनुभवी विषेशज्ञों की एक टीम के साथ संजीवनी अस्पताल अनेक स्पेशलाइज़्ड मेडिकल सुविधाओं से सुसज्जित है। अस्पताल में उपलब्ध विभिन्न विभागों में पल्मोनोलॉजी क्रिटिकल केयर एंड स्लीप मेडिसिन, गायनोकोलॉजी एंड ओब्स्टेट्रिक्स, पेडियाट्रिक्स और नियोनेटोलॉजी, नेफ्रोलॉजी, ऑर्थोपेडिक्स, स्पाइन सर्जरी, न्यूरोलॉजी, एंडोक्राइन एंड ब्रेस्ट सर्जरी, कार्डियोलॉजी, कैंसर केयर, यूरो सर्जरी, गैस्ट्रो सर्जरी और डेंटल क्लिनिक शामिल हैं।

24 घंटे कार्यात्मक अनेक मेडिकल सुविधाओं से सुस्सजित


विशेष देख रेख और साफ़ सफाई से मेन्टेन किये गए वार्ड और कमरों के माध्यम से एक प्रोएक्टिव इमरजेंसी, ट्रामा सेंटर और एक बेहद प्रभावशाली पेशेंट सपोर्ट सिस्टम के साथ अस्पताल के डॉक्टर मरीज़ों को अधिकतम लाभ प्रदान करने के प्रति समर्पित हैं।

इसके अतिरिक्त, आईसीयू, एनआईसीयू, हाई डिपेंडेंसी यूनिट्स, 24*7 इंटेंसिविस्ट, विशिष्ट सर्जरी के लिए एक मॉड्यूलर ओटी और दो अन्य विस्तृत रूप से सक्षम ओटी यह सुनिश्चित करते हैं कि अस्पताल का बुनियादी ढांचा सभी उन्नत सुविधाओं के साथ हमेशा कॉम्पैक्ट रहे।

एक बहु विषयी सुपर-स्पेशियलिटी अस्पताल होने के नाते, सेंटर अत्याधुनिक सुविधाओं से सुसज्जित है, जो चौबीसों घंटे चालू रहता है। एक पूरी तरह से ऑटोमेटेड पैथॉलॉजी और बेहतर संसाधनों वाली 24*7 फार्मेसी और डायलिसिस जैसी आवश्यक सेवाओं के साथ अस्पताल सभी चिकित्सा आवश्यकताओं की उपलब्धता प्रदान करता है।

चीफ पल्मोनोलॉजिस्ट पोस्ट कोविड केयर का आश्वासन देते हैं

डॉ एसएन गुप्ता द्वारा शुरू किया गया संजीवनी अस्पताल ने एक लम्बी यात्रा तय की है, और अब महामारी की इन कठिन परिस्थितियों में भी लखनऊ के नॉन कोविड मरीज़ों की बखूबी देखभाल संजीवनी अस्पताल कर रहा है और वायरस के प्रभावों से मरीजों का बचाव और उपचार कर रहा है। कई विभागों के प्रमुख पल्मोनोलॉजिस्ट और क्रिटिकल केयर एंड स्लीप मेडिसिन विशेषज्ञ के रूप में अग्रणी, डॉ गुप्ता ने वर्तमान समय में कोविड के बाद होने वाली जटिलताओं के उपचार के लिए प्रयासों में जुट गए हैं।

हालांकि वायरस शरीर में बढ़ते समय घातक साबित हो सकता है लेकिन वायरस संक्रमण के ख़तम होने के बाद भी घातक न साबित हो,ऐसी संभावनाओं की भी जांच और उपचार होना बेहद ज़रूरी है। यदि आप आरटी -पीसीआर टेस्ट नेगटिव आने के बाद भी परेशानियों का सामना कर रहे हैं तो संजीवनी अस्पताल सर्वोत्तम उपचार और मेडिकल परामर्श के लिए एक बेहतर विकल्प है।

अस्पताल में प्रवेश और ओपीडी सुविधाओं के लिए निर्देश

संक्रमण की तेज़ रफ़्तार को देखते हुए अस्पताल प्रबंधन ने वायरस के विस्तार को रोकने के लिए एक सख्त जांच का दायरा बनाया है। संजीवनी अस्पताल की सेवाओं का लाभ उठाने के इच्छुक सभी व्यक्तियों को इन बातों को ध्यान में रखना होगा -

➡ यदि किसी मरीज की निगेटिव आरटी-पीसीआर रिपोर्ट (अस्पताल आने से एक दिन पहले) की है, तो उसे बिना किसी देरी के सभी आवश्यक सहायता प्रदान की जाएगी।

➡ यदि मरीज़ के पास आरटी-पीसीआर नकारात्मक रिपोर्ट नहीं है, तो वह प्रारंभिक रैपिड एंटीजन टेस्ट के निगेटिव आने के बाद ही ओपीडी सेवाएं प्राप्त कर सकता है और इसके अतिरिक्त, अस्पताल में प्रवेश की अनुमति देने से पहले परिचर का भी परीक्षण किया जाएगा।

➡ किसी स्थिति में मरीज को ओपीडी परामर्श के बाद अस्पताल में भर्ती करने की सलाह दी जाती है तो उसे केंद्र में आरटी-पीसीआर टेस्ट कराना होगा।

Knock Knock


जहां अधिकतर अस्पताल इस समय कोरोना संक्रमित मरीज़ों से भरे हुए हैं ऐसी विषम परिस्थिति में नॉन कोविड रोगियों के लिए संजीवनी अस्पाताल एक बहुत बड़ा सहारा है। हालांकि कोरोना से संबंधित लक्षणों की जांच प्राथमिकता के आधार पर की जानी चाहिए, लेकिन अन्य स्वास्थ्य समस्याओं से जुड़े संकेतों को नज़रअंदाज़ करना भी सही नहीं है। इसलिए, यदि आपको मेडिकल देखभाल और सहायता की आवश्यकता महसूस होती है, तो संजीवनी अस्पताल से संपर्क करें।

अधिक जानकारी के लिए, आप अस्पताल की वेबसाइट देख सकते हैं, या उनसे सीधे 0522-4232333 या 0522-3573895 पर संपर्क कर सकते हैं।