लखनऊ में कोरोना महामारी के कारण आम जनता को कई दिक्कतों को सामना करना पड़ा है। इसके साथ ही जो मरीज या मरीज के परिजन कोरोना वायरस या अन्य किसी बीमारी से पीड़ित रहे उन्हें दवाओं के लिए काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा जिससे लोगों ने खुद को असहाय महसूस किया और अनावश्यक तरीके से लोगों को बाजार से महंगी दवा खरीदने पर मजबूर होना पड़ा। आम जनता की इसी परेशानी को देखते हुए और जरूरतमंद लोगों को निःशुल्क दवायें आसानी से मुहैया करवाने के लिए गुरुद्वारा सदर की ओर से सोमवार को निःशुल्क जेनेरिक दवाई सेवा शुरू की गई। यहां लगभग सभी बीमारियों की दवाइयां उपलब्ध हैं।


सदर गुरुद्वारे के प्रधान हरपाल सिंह जग्गी ने बताया कि सेवा के पहले दिन अभी कम संख्या में ही लोग आए। उन्होंने बताया कि दोपहर 12 से 1 बजे तक व शाम 5 से 6 बजे तक कोई भी जरूरतमंद सदर गुरुद्वारा आकर दवाई ले सकता है। दवाई लेने के लिए डॉक्टर का पर्चा और आधार कार्ड दिखाना जरूरी है। उन्होंने कहा कि बहुत से लोग किसी तरह से डॉक्टर को तो दिखा लेते हैं पर दवाई नहीं खरीद पाते हैं जिससे बीमारी बढ़ती जाती है। कोरोना काल में लोगों की परेशानी देखते हुए निःशुल्क जेनेरिक दवाएं देने का निर्णय लिया गया है। कोरोना के मरीजों को वरीयता दी जा रही है जिससे उन्हें किसी तरह की परेशानी न होने पाए। महामारी के कारण कई लोगों ने अपनी आजीविका के साधन खो दिए हैं, हालांकि, इससे उनके या उनके परिवार के लिए चिकित्सा उपचार और नैदानिक ​​​​ध्यान देने का रास्ता बंद नहीं होना चाहिए। इस संबंध में सदर गुरुद्वारे ने भी कोरोना वायरस के मरीजों को प्राथमिकता के आधार पर दवाएं उपलब्ध कराने का निर्णय लिया है, ताकि उन्हें अन्य बाधाओं का सामना न करना पड़े।