बंगाल की खाड़ी में बना चक्रवाती तूफान यास (Yaas Cyclone) का प्रभाव यूपी के कई हिस्सों में दिखना शुरू हो गया है। आईएमडी द्वारा जारी किये गए पूर्वानुमान के अनुसार, उत्तर प्रदेश के पूर्वी और उत्तर-पूर्वी जिलों में 28 मई तक तेज हवाओं के साथ भारी बारिश होगी। इसके अलावा, चक्रवात यास पश्चिमी यूपी की ओर बढ़ेगा जिससे पूर्वी यूपी में मौसम की स्थिति खराब होने की संभावनाएं बतायी जा रही हैं।

हवा की गति 50-60 किमी प्रति घंटे के बीच होगी


मौसम विभाग के अनुसार, यूपी के पूर्वी हिस्सों में चक्रवात यास का प्रभाव बारिश और तेज हवाओं के रूप में दिखेगा। मंगलवार तक, यह उम्मीद की जा रही थी कि यास केवल यूपी को हल्का प्रभावित करेगा, हालांकि, यह यूपी में गंभीर रूप लेता नज़र आ रहा है। इसी के चलते, पूर्वी यूपी के 18 जिलों को आईएमडी की चेतावनी के बाद अलर्ट पर रखा गया है।

जोनल मौसम विज्ञान केंद्र ने भी पूर्वी यूपी में आंधी, भारी बारिश और हवाएं की संभावनाएं बताकर बुधवार को अलर्ट जारी किया है। मौसम बुलेटिन के अनुसार, हवाओं की गति 50-60 किमी प्रति घंटे के बीच होगी। मौसम की ऐसी स्थिति 28 मई तक बनी रहेगी।

मौसम की इन स्थितियों के कारण कानपुर और लखनऊ सहित मध्य यूपी के जिलों में भी हलकी वर्षा हो सकती है। इसके अलावा, यह संभावना है की चक्रवात पूर्वी यूपी के जिलों जैसे कि बलिया और गोंडा के लिए मौसम की स्थिति को और खराब करेगा।

जिला प्रशासन रख रहा संभावित नुकसान पर नज़र


आईएमडी द्वारा अलर्ट जारी किए जाने के बाद, राज्य सरकार ने पूर्वी यूपी के जिलों के प्रशासन को यह देखने की सलाह दी है कि कम से कम नुकसान हो। इन आदेशों के चलते जिला प्रशासन संबंधित व्यवस्था कर रहा है और निवासियों के लिए सलाह जारी कर उन्हें घर के अंदर रहने या मजबूत संरचनाओं के तहत आश्रय लेने के लिए कहा है।