मुख्य बिंदु

चंद्रिका देवी रोड को किया जाएगा चौड़ा और हटाया जाएगा अतिक्रमण।
11.448 किलोमीटर लंबी सड़क की चौड़ीकरण और मरम्मत में करीब 41.83 करोड़ रुपये खर्च होंगे।
सड़क का निर्माण कार्य इसी महीने शुरू होने की उम्मीद।

सीतापुर रोड पर गोमती नदी के किनारे स्थित चंद्रिका मंदिर लखनऊ में एक प्रसिद्ध धर्मिक स्थल है। यह मंदिर लखनऊ शहर से करीबन 28 किमी की दूरी पर स्थित है। धार्मिक कार्यक्रमों और नवरात्र के वक्त चंद्रिका देवी मंदिर आने वाले भक्तों का तांता लग जाता है और कई बार जाम जैसी समस्या भी पैदा हो जाती है। इसी को देखते हुए जल्द ही सीतापुर रोड से चंद्रिका देवी मंदिर का 11.448 किलोमीटर लंबा रास्ता चौड़ा किया जाएगा और इसके लिए सड़क किनारे से अतिक्रमण भी हटाए जाएंगे, इसके साथ पूरे रास्ते की मरम्मत भी की जाएगी।

चंद्रिका देवी मंदिर का रास्ता सालों से बदहाल स्थिति में है और इस जगह की महत्वता और यहां की सड़कों पर लोगों और वाहनों की बढ़ती संख्या को देखते हुए पीडब्लूडी चंद्रिका देवी मंदिर के रास्ते की मरम्मत करेगा जिसकी मंजूरी भी मिल चुकी है। पीडब्लूडी के इंजीनियर एके सिंह ने बताया कि 11.448 किलोमीटर लंबी सड़क की चौड़ीकरण और मरम्मत में करीब 41.83 करोड़ रुपये खर्च होंगे। मंजूरी के बाद सड़क निर्माण के लिए टेंडर की प्रक्रिया तेज कर दी गई है और उम्मीद है की इसी महीने इस सड़क का काम शुरू हो जाएगा और इसके साथ ही सड़क किनारे अतिक्रमण हटाने के लिए जिला प्रशासन और पुलिस की मदद ली जाएगी।

पीडब्लूडी ने लखनऊ की 10 सड़कों का मरम्मत कार्य किया शुरू

इसके साथ ही लोक निर्माण विभाग ने शहर की 10 प्रमुख सड़कों पर मरम्मत कार्य शुरू कर दिया है। इसमें इंदिरानगर, विकासनगर और कुर्सी रोड की सड़कें शामिल हैं। पीडब्लूडी अधिकारीयों के मुताबिक नगर निगम से पीडब्लूडी को 49 सड़कें हैंडओवर हुई हैं। ये सड़कें 500 मीटर से अधिक लंबी और 7 मीटर चौड़ी हैं। ये इंदिरानगर, विकासनगर के लिए 15 करोड़ रुपये और आशियाना की सड़कों के लिए 28 करोड़ रुपये आवंटित हुए हैं। पहले चरण में 10 सड़कों पर मरम्मत कार्य शुरु हुआ है और विभाग को उम्मीद है की जल्द ही इन सभी सड़कों का निर्माण कार्य पूरा कर लिया जाएगा।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *