कानपुर में मेट्रो का सपना अब पूरा होता दिखाई दे रहा है। बीते सोमवार की रात को यूपीएमआरसी ने मेट्रो के तीन डिब्बों को ट्रैक पर उतारकर ट्रायल रन किया और पहली बार कानपुर मेट्रो टेस्ट ट्रैक पर चलती दिखी। इस ट्रायल में कानपुर मेट्रो के डिब्बों के दरवाजों के खुलने और बंद करने की चेकिंग की गई। मेट्रो के ट्रैक पर ट्रेन को पटरी पर चलाकर सिग्नल के साथ रुकने और चलने का भी ट्रायल किया गया।

यूपीएमआरसी के मुताबिक कानपुर के पॉलिटेक्निक स्थित डिपो में 650 मीटर ट्रैक पर मेट्रो ट्रेन ने 3 राउंड लगाए, जो की कुल 650 मीटर ट्रैक के 6 चक्कर हुए। बताया जा रहा है कि इस दौरान मेट्रो की रफ्तार करीब 10-15 प्रति/किलोमीटर थी। डिपो के अंदर इसे अधिकतम 30 किलोमीटर की रफ्तार से चलाया गया। मेट्रो के 3 खाली डिब्बे करीब आधा घंटा तक यार्ड में फर्राटा भरते रहे, इस मौके पर रोलिंग स्ट्रॉक (ट्रेन डिपार्टमेंट) और ट्रैक्शन की टीमें मौजूद रहीं।

कानपुर मेट्रो के स्टेशन लगभग बनकर तैयार हो चुके हैं

यूपीएमआरसी द्वारा कानपुर मेट्रो का निर्माण कार्य काफी तीव्र गति से किया गया है और उम्मीद की जा रही है की दीपावली पर कानपुर वासियों को मेट्रो का तोहफा मिल सकता है जिससे कानपुर के लोगों का शहर के अंदर का सफर सुगम हो जाएगा।

मेट्रो के पहले सफल ट्रायल पर यूपीएमआरसी के एमडी कुमार केशव ने बधाई दी। आपको बता दें कि कानपुर में पहले चरण में आईआईटी (IIT) से मोतीझील के बीच मेट्रो ट्रेन का संचालन किया जाना है और इसका ट्रायल रन 15 नवंबर से रिसर्च एंड डिजाइन स्टैंडर्ड आर्गनाइजेशन (आरडीएसओ) की देखरेख में होना है। रिपोर्ट के अनुसार, उम्मीद की जा रही है कि कानपुर मेट्रो दिसम्बर 2021 या फिर अगले साल जनवरी 2022 तक कानपुर के लोगों के लिए अपनी सेवाएं शुरू कर देगी।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *