प्राचीन पर्यटक आकर्षण और पुरातात्विक (archeological) स्थल, खजुराहो भगवान शिव, विष्णु और जैन पितरों को समर्पित विभिन्न प्रकार की कलात्मक मंदिरों के लिए जाना जाता है। यह स्थान 9 वीं से 11 वीं शताब्दी के समृद्ध और गौरवशाली चंदेल वंशकाल से शोभायमान है। खजुराहो मध्य भारत के मध्य प्रदेश के केंद्र में स्थित है, जो चंदेला राजाओं की राजधानियों में से एक था जिन्होंने इसे जटिल नक्काशी, स्थापत्य कला और सबसे लोकप्रिय कामुक मूर्तियों के साथ सजाया था।

खुजराहो के मंदिर सदियों से कई कारणों की वजह से आकर्षण का केंद्र रहे हैं और सबसे लोकप्रिय कारण यह है कि कई खजुराहो के मंदिरों पर कामुक दृश्यों के रूप में नक्काशी हैं। लेकिन जब आप खजुराहों में होंगे तब आप वास्तव में ये समझ पाएंगे की यहां कामुक नक्काशी के अलावा भी बहुत कुछ देखने और जानने योग्य है। यहां के कुछ मंदिर, वास्तव में, जीवन के उन विचारों को स्पष्ट करते हैं जहां कुछ प्रेरणादायक बनाने के लिए सौंदर्य वस्तुओं को शामिल किया जाता है।

कानपुर शहर से 222 किलोमीटर दूर स्थित खजुराहो मंदिरों, म्यूजियमों और ऐतिहासिक विशेषताओं का केंद्र है जहां आपको ज़्यादा से ज़्यादा तथ्यों को जानने का मन करेगा। यूनेस्को की विश्व धरोहर स्थल के रूप में प्रमाणित, इस रोमांचक शहर की आपकी यात्रा अवश्य सार्थक रहेगी खासकर यदि आप इतिहास या वास्तुकला के प्रति दिलचस्पी रखते हैं।

विश्व प्रसिद्ध खजुराहो मंदिर



विशेष रूप से, खजुराहो मंदिर 21 वर्ग किमी में फैले हैं जिनमें राजवंश के विभिन्न शासकों द्वारा सभी 85 समृद्ध नक्काशीदार मंदिर स्थापित हैं। यह माना जाता है कि प्रत्येक चंदेल शासक ने अपने जीवनकाल में कम से कम एक मंदिर का निर्माण किया है। आज मूल मंदिरों में से केवल 20 ही समय के प्रकोपों से बच पाए हैं। इन मंदिरों में उत्कृष्ट मूर्तियों के साथ अंदर और बाहर से बड़े पैमाने पर नक्काशी की गयी है जिनमें से केवल 10 प्रतिशत मूर्तियां ही कामुक है बाकी सभी रोज़मर्रा के जीवन के कार्य को दर्शाती हैं।

ये मंदिर मध्यकालीन युग के जीवन का मार्मिक चित्रण करते हैं और उस दौर में महिलाओं की पारंपरिक जीवन शैली पर भी जोर देते हैं। मंदिरों की मूर्तियों ने दीवारों पर मानव जीवन के साथ लगभग सब कुछ समाविष्ट किया है, जो बलुआ पत्थर (sandstone) का उपयोग करके विभिन्न रंगों जैसे गुलाबी और हलके पीले से बनाया गया है। कई विदेशी यहां इन मंदिरों के ज़रिये देश की संस्कृति और विरासत के बारे में जानने के लिए आते हैं।

एक खूबसूरत स्त्री है इन मंदिरों के निर्माण के पीछे की प्रेरणास्त्रोत



यहां के लोकप्रिय जानकारों का कहना है की यहां पर 'हेमवती' नाम की एक खूबसूरत स्त्री हुआ करती थी, जो इन भव्य मंदिरों के निर्माण के पीछे की प्रेरणास्त्रोत हैं। कहा जाता है की एक हेमवती एक बार बनारस में नहा रही थीं और इंद्र देवता ने उन्हें देखा और उनकी सुंदरता से मोहित हो गए।

जानकारों के अनुसार हेमवती ने फिर 'चन्द्रवर्मन' नामक एक बच्चे को जन्म दिया लेकिन वे चिंतित थीं की उनके पुत्र पर लांछन लगाएंगे क्यूंकि उसका जन्म विवाह के बंधन से रहित हुआ था। इसके बाद, हेमवती ने चंद्रमा भगवान को शाप दिया, जिन्होंने तब भविष्यवाणी की थी कि चंद्रवर्मन एक महान राजा होगा, जो बाद में सच साबित हुआ।

चंद्रवर्मन ने चंदेला राजवंश की स्थापना की और हेमवती के निधन के एक दिन बाद, चन्द्रवर्मन ने उन्हें अपने सपनों में देखा, जहां उन्होंने उनसे ऐसे मंदिरों का निर्माण करने के लिए कहा, जो मानव जुनून और लालसा की सुंदरता को चित्रित करें ।

नॉक नॉक (Knock Knock)



इन मंदिरों में कला को प्रेम और जुनून के शिखर के रूप में दर्शाया गया है। पश्चिमी और दक्षिणी भारत में भी इसी अवधि के दौरान कई और मंदिर बनाए गए थे, लेकिन उनमें से किसी में भी उनकी मुख्य दीवार पर ऐसी मूर्तियां नहीं थीं, जैसे कि खजुराहो के मंदिरों में है। इस प्रकार, यह कला का एक अनूठा उदाहरण और भारत में एक आदर्श यात्रा गंतव्य है।

खजुराहो की यात्रा का सबसे अच्छा समय जुलाई से मार्च के महीनों के दौरान है, क्योंकि मानसून में सबसे आकर्षक, हरे-भरे दृश्यों देखने को मिलते है, और सर्दियों का मौसम आपके लिए इस आकर्षक स्थल पर टहलने के लिए सुखद मौसम साबित होगा ! लेकिन जब भी आप यात्रा कर रहे हों तो सावधानी बरतना आवश्यक है क्योंकि महामारी अभी भी प्रभाव में है, अपना मास्क पहनें, हैंड सैनिटाइज़र ले जाएं और साथी यात्रियों से पर्याप्त दूरी बनाए रखें।

ताजा ख़बरों के साथ सबसे सस्ती डील और अच्छा डिस्काउंट पाने के लिए प्लेस्टोर और एप स्टोर से आज ही डाउनलोड करें Knocksense का मोबाइल एप और KnockOFF की मेंबरशिप जल्द से जल्द लें, ताकि आप सभी आकर्षक ऑफर्स का तत्काल लाभ उठा सकें।

Android - https://play.google.com/store/apps/details?id=com.knocksense

IOS - https://apps.apple.com/in/app/knocksense/id1539262930