कोरोना संक्रमण के विस्तार को रोकने के लिए उत्तर प्रदेश प्रशासन ने शादियों और अन्य सामाजिक कार्यक्रमों में आने वाले मेहमानों की संख्या को सीमित करने का निर्णय लिया है। 18 मई को जारी किये एक आदेश में 'मुख्य गृह सचिव' ने घोषणा की कि राज्य भर में खुले मैदान और बंद हॉल दोनों में किसी भी प्रकार सार्वजनिक सभा में केवल 25 लोगों को शामिल होने की ही अनुमति होगी। इसके अलावा ऐसे सभी कार्यक्रमों में कोरोना के सभी मानदंडों का सख्ती से पालन किया जाना चाहिए।

यूपी के सभी सार्वजनिक कार्यक्रमों में सुरक्षा मानदंडों का पालन अनिवार्य


उत्तर प्रदेश प्रशासन ने सभी सार्वजनिक कार्यक्रमों के लिए नए प्रतिबन्ध लागू किये हैं। मंगलवार को जारी किये गए आदेश में शादियों में आने वाले मेहमानों की संख्या को 25 तक सीमित कर दिया गया है। इसके पहले बंद जगहों पर 50 और खुले मैदानों में 100 लोगों की अनुमति थी लेकिन नए प्रतिबन्ध सख्ती से राज्य भर में लागू होंगे।

संपर्क बढ़ने और संक्रमण को फैलने की संभावना को कम करने के लिए लोगों के सामजिक व्यवहार और बैठने की व्यवस्था के सम्बन्ध में भी अन्य निर्देश जारी किये गए हैं। आदेश में सभी उपस्थित लोगों या मेहमानों को मास्क पहनना और एक दूसरे से सुरक्षित सामाजिक दूरी बनाए रखना अनिवार्य है, और अन्य सावधानियों जैसे हैंड सैनिटाइज़र के उपयोग की भी सलाह दी गयी है।

इसी बीच राज्य प्रशासन ने यह भी सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं की मेहमानों के बैठने की व्यवस्था सुरक्षित दूरी पर होनी चाहिए, और उचित साफ़ सफाई और आराम कक्षों और टॉयलेट ठीक तरह से सैनिटाइज़ होने चाहिए।