कानपुर में यातायात की स्थिति को सुधारने के प्रयास में, शहर के अधिकारियों ने एक नई योजना बनाई है। इस परियोजना के तहत सिविल लाइंस में यूपी स्टॉक एक्सचेंज और घंटाघर चौराहा के बीच चलने वाले हिस्से पर एलिवेटेड रोड का निर्माण किया जाएगा। कथित तौर पर, एक उच्च-स्तरीय विकास समिति इस एलिवेटेड रोड के लिए रूपरेखा तैयार करेगी, जो सड़क के खंभों द्वारा समर्थित चार लेन की होगी।

शहर में सड़क के बुनियादी ढांचे में किया जा रहा है सुधार


रिपोर्ट के अनुसार, उच्च स्तरीय समिति के सदस्य क्षेत्रीय निरीक्षण करेंगे और निर्धारित परियोजना के लिए व्यवहार्यता रिपोर्ट (feasibility report) तैयार करेंगे। एक बार यह रिपोर्ट तैयार हो जाने के बाद, समिति उस विभाग का चयन करेगी, जो आगामी सुविधा के निर्माण के लिए उपयुक्त होगा। उम्मीद है कि एलिवेटेड रोड से शहर में ट्रांसपोर्ट इंफ्रास्ट्रक्चर पूरी तरह से बदल जाएगा।

कई कारणों से शहर में मौजूदा सड़कों को चौड़ा नहीं किया जा सकता है। ऐसे में मौजूदा समस्याओं के समाधान के लिए अधिकारी एलिवेटेड रोड योजना लेकर आए हैं। कथित तौर पर, परियोजना को अब एक उच्च स्तरीय समिति द्वारा देखा जा रहा है, जिसमें डीसीपी यातायात, जिला आयुक्त, मुख्य अभियंता पीडब्ल्यूडी और अन्य अधिकारी शामिल हैं

लाटूश रोड, सिविल लाइंस और अन्य क्षेत्रों के यात्रियों को होगी आसानी

बताया जा रहा है कि लाटूश रोड, कुली बाजार, लोहा मंडी, कलेक्टरगंज, मूलगंज समेत अन्य इलाकों के बाजारों में अन्य शहरों से बड़ी संख्या में कारोबारी आते हैं। इसके कारण, इन क्षेत्रों में भारी यातायात का सामना करना पड़ता है और नियमित रूप से यहां जाम लग जाता है। इसका सीधा परिणाम यह होता है कि सिविल लाइंस, लाटूश रोड और अन्य क्षेत्रों से सेंट्रल स्टेशन जाने वाले यात्रियों को लंबी यात्रा करनी पड़ती है।

इसके अलावा सिविल लाइंस, नवाबगंज, वीआईपी रोड, परमट समेत अन्य इलाकों से शहर के दक्षिणी हिस्से में आने-जाने वालों को भी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। उन्हें रावतपुर, विजयनगर, माल रोड और घंटाघर चौराहा से गुजरने वाला रास्ता अपनाना होगा। इन समस्यायों को देखते हुए अधिकारियों ने परेड चौराहा, मूलगंज, लोहा मंडी, नई सड़क, हलसी रोड, कुली बाजार और कलेक्टरगंज थाने को जोड़ने वाली एलिवेटेड रोड बनाने की योजना बनाई है.