आईआईटी कानपुर के स्टार्टअप इनक्यूबेशन एंड इनोवेशन सेंटर (Startup Incubation and Innovation Centre) अपने मिशन भारत ऑक्सीजन के कार्यक्रमों में तेजी लाने के लिए आईसीआईसीआई सिक्योरिटीज (ICICI Securities) से फंडिंग हासिल करने में कामयाब रहा है। इस एजेंडे का उद्देश्य ग्लोबल एजेंसियों के समान स्वदेशी मेडिकल संसाधनों के एक इकोसिस्टम को विकसित करना और मजबूत करना है, ताकि उभरते महामारी के खतरे को दूर किया जा सके। रिपोर्ट के अनुसार, इस नयी ग्रांट के साथ आईआईटी कानपुर का उद्देश्य उच्च गुणवत्ता वाले ऑक्सीजन कॉन्सेंट्रेटर का तेजी से निर्माण कर बेहतर वितरण मॉडल विकसित करना है।

ऑक्सीजन उपकरणों की सप्लाई और वितरण को बढ़ावा देना


भारत की स्वास्थ्य सेवा प्रणाली विकसित करने में आईआईटी कानपुर और SIIC का बड़ा योगदान रहा है। संस्थान ने देश भर में ऑक्सीजन की सप्लाई में तेजी लाने के लिए एक त्रिस्तरीय रणनीति पर काम किया है। संस्थान का लक्ष्य फास्ट ट्रैक उत्पाद विकास, सेंट्रलाइज़्ड सोर्सिंग और डीसेंट्रलाइज़्ड विनिर्माण के साधनों पर मोनोपोली हासिल करना है ताकि 20,000 शीर्ष ऑक्सीजन प्लांट और कॉन्सेंट्रेटर के ज़रिये ऑक्सीजन सप्लाई को आसान बनाया जा सके। आईआईटी कानपुर ने बताया की घरेलू रूप से निर्मित उपकरणों की कीमत इम्पोर्ट किये जाने वाले उपकरणों की तुलना में कम से कम 40% कम होगी ।

SIIC पहले ही 70 से अधिक उम्मीदवारों में से आठ विनिर्माण पार्टनरों को शॉर्टलिस्ट कर चुका है, जिन्होंने इन स्वदेशी ऑक्सीजन प्लांट और कॉन्सेंट्रेटर का टेंडर प्राप्त करने के लिए मुकाबला किया था। संस्थान अपने लक्ष्य तक पहुंचने के लिए प्रति निर्माता प्रति दिन 100 यूनिट्स की योजना बना रहा है।

भारत को ग्लोबल निर्माताओं की लीग में स्थान दिलाना


इनक्यूबेशन एंड इनोवेशन के प्रभारी प्रोफेसर बंद्योपाध्याय, ने पिछले साल महामारी के प्रकोप के बाद से अपनी इनक्यूबेटेड कंपनियों के अपार योगदान पर प्रकाश डाला। अब, संस्थान इसे दूसरे स्तर पर ले जाने और स्थानीय निर्माताओं का एक नेटवर्क बनाने की कल्पना कर रहा है जो भारत को ग्लोबल विनिर्माण केंद्रों के समान लीग में रखेगा। आईसीआईसीआई सिक्योरिटीज देश की उत्तम वित्तीय सेवा कंपनी में से एक है और इसके समर्थन से ज़रूर भारत को एक अत्याधुनिक ग्लोबल उत्पादक बनने में सहायता मिलेगी। आईसीआईसीआई सिक्योरिटीज के एमडी और सीईओ श्री विजय चंडोक ने कहा, "इस परियोजना के लिए इस साल आईआईटी कानपुर के साथ अपनी सीएसआर साझेदारी का विस्तार करने के लिए हम सम्मानित महसूस कर रहे हैं, जो कि सस्ती और उच्च गुणवत्ता, स्वदेशी ऑक्सीजन कॉन्सेंट्रेटर प्रदान करके स्वास्थ्य सेवा प्रणाली में सभी की मदद करेगा।"