जरुरी बातें

11 दिसंबर से कानपुर के 8 रूटों पर शुरू होगा एसी इलेक्ट्रिक बसों का संचालन।
जल्द ही 4 अतिरिक्त रूटों पर भी एसी ई-बसों का संचालन किया जायेगा शुरू।
न्यूनतम 10 रुपये और अधिकतम 25 रुपये देना होगा किराया।
अब तक कुल 60 बसें कानपुर परिवहन विभाग को मिल चुकीं हैं।
ई-बसों की चार्जिंग के लिए अहिरवां डिपो में 5 चार्जिंग पॉइंट बनाये जा रहे हैं।

कानपुर में लोगों की यात्रा को सुगम बनाने के लिए शहर में एसी इलेक्ट्रिक बसों का संचालन शुरू किया जा रहा है और आगामी 11 दिसंबर से शहर के 8 रूटों पर यह इलेक्ट्रिक बसें चलाई जाएंगी। शुरुआत में शहर के 8 रूटों पर संचालन शुरू होने के बाद जल्द ही 4 अतिरिक्त रूटों पर भी एसी ई-बसों का संचालन किया जायेगा जिसके तहत परिवहन विभाग द्वारा इन 4 अतिरिक्त रूटों पर स्टॉपेज और लोड का सर्वे किया जा रहा है।

अब तक कुल 60 बसें कानपुर परिवहन विभाग को मिल चुकीं हैं और विभाग के अधिकारियों के अनुसार 40 और एसी ई-बसों के आने के बाद बचे 4 रूटों पर भी संचालन शुरू हो जाएगा। एसी ई-बसों की चार्जिंग के लिए अहिरवां डिपो में 5 चार्जिंग पॉइंट बनाये जा रहे हैं। 11 दिसंबर से अहिरवां डिपो भी जनता के लिए खोल दिया जायेगा।

साधारण किराया देकर लोग कर सकेंगे एसी ई-बसों में सफर

शहर में चलने वाली एसी ई-बसों का किराया सामान्य होगा जिससे यात्रियों की जेब पर कोई ख़ास असर नहीं पड़ेगा। स्मार्ट सिटी प्रोग्राम के तहत चलने वाली एसी ई-बसों का किराया शहर में चलने वाले सीएनजी (CNG) वाहन जैसे टेम्पो और बस के किराये के लगभग ही रखा गया है। एसी ई-बसों से सफर करने पर यात्रियों को न्यूनतम 10 रुपये और अधिकतम 25 रुपये किराया देना होगा।

शहर में इन रूटों पर चलेंगी इलेक्ट्रिक बसें

पहला रुट करबिगवां (Karbigwan) से घंटाघर के बीच होगा। पहले रुट के बीच रूमा, रामदेवी, पीएसी, टाटमिल और घंटाघर पर बसों का स्टॉपेज होगा।

दूसरा रुट अहिरवां से भौंती के बीच होगा। दूसरे रुट के बीच सनिगवां, हाईवे, नौबस्ता, विश्व बैंक कालोनी, जरौरी मोड़ और भौंती पर बसों का स्टॉपेज होगा।

तीसरा रुट अहिरवां से कंपनीबाग के बीच होगा। तीसरे रुट के बीच रामादेवी, जेके कालोनी चौराहा, सर्किट हाउस, मरेकंपनी पुल, मेघदूत, सिविल लाइंस और कंपनीबाग पर बसों का स्टॉपेज होगा।

चौथा रुट अहिरवां से बारादेवी के बीच होगा। चौथे रुट में ई-बस रामादेवी, यशोदानगर, नौबस्ता, साइट नंबर वन, बारादेवी, गोविंदनगर पुल, फजलगंज, जरीबचौकी होते हुए अहिरवां जायेगी।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *