निरंतर चल रही घातक कोरोना महामारी को देखते हुए कानपुर नर्सिंग होम एंड हॉस्पिटल एसोसिएशन और इंडियन मेडिकल एसोसिएशन, कानपुर द्वारा नि: शुल्क टेलीफोनिक परामर्श सेवाओं के लिए डॉक्टरों की दो संबंधित सूचियाँ जारी की गई हैं। कोरोना महामारी और अन्य बीमारियों से ग्रसित मरीज़ों की सहायता करने के उद्येश्य से शुरू की गयी इस कल्याणकारी योजना में अनेक चिकित्सा विशेषज्ञ एक साथ दिन के किसी भी समय टेलीफोन पर परामर्श देने के लिए उपलब्ध हैं।

घर में आइसोलेटेड मरीज़ों की सहायता और देखभाल के लिए एक पहल।





महामारी से ग्रसित गंभीर मरीज़ों की संख्या में तेजी से वृद्धि होने के कारण शहर की स्वास्थ्य सेवाएं एक बोझिल स्थिति का सामना कर रही है। जबकि मेडिकल आवश्यकताएं तेज़ी से बढ़ रही हैं, मेडिकल स्टाफ और चिकित्सा संसाधन वर्त्तमान ज़रूरतों के मुकाबले कम पड़ रहे हैं। इन्ही परिस्थितियों को देखते हुए यह मुफ्त टेलीफोन कंसल्टेशन की पहल सम्बंधित चिकित्सकों के पास अपॉइंटमेंट प्राप्त करने में असमर्थ कोविड और नॉन कोविड सभी मरीज़ों की सहायता करेगी।

यह ध्यान देने योग्य है की आईएमए कानपुर द्वारा यह सुविधा 2 मई तक प्रदान की जा रही है। इसके अलावा, संगठन द्वारा जारी किए गए नोटिस में एक व्यापक कार्यक्रम शामिल है, जिसमें समय स्लॉट्स शामिल हैं जिनमें डॉक्टर उपलब्ध होंगे। मरीज़ों से अनुरोध किया गया है कि वे विभिन्न स्वास्थ्य विशेषज्ञों से संपर्क करने के लिए निर्धारित समय सीमा का पालन करें।

कानपुर में बढ़ते हुए कोविड मामलों पर ध्यान देना आवश्यक हैं!



शुक्रवार को कानपुर में 1,873 नए कोविड मामले दर्ज किए गए और सक्रिय मामलों की संख्या 17,856 तक पहुंच गई। जबकि शुक्रवार को शहर में 2,015 रिकवर हुए थे वहीँ 19 लोगों की मृत्यु हो गयी। इन आंकड़ों पर ध्यान दें, तो यह कहना मुश्किल है कि दूसरी कोविड लहर कब कम होगी।