मुख्य बिंदु:

कानपुर में डेंगू के 13 नए मामले मिले।

कानपुर में डेंगू के कुल मरीज़ों की संख्या 298 हो गई है।

डेंगू के कुल 298 मामलों में से 237 मरीज़ ग्रामीण इलाकों के हैं।

शहरी इलाकों में 61 लोग डेंगू से पीड़ित हैं।

कानपुर में कोरोना के बाद लोग डेंगू के कहर से परेशान हैं। स्वास्थ्य विभाग की जिला मलेरिया इकाई द्वारा लगातार किए जा रहे उपायों के बावजूद डेंगू के मामले बढ़ते जा रहे हैं। बुधवार को कानपुर में एक साथ डेंगू के 13 नए मरीज़ मिलने का बाद जिले में डेंगू के कुल मरीज़ों की संख्या 298 हो गई है।

शहरी इलाकों की अपेक्षा ग्रामीण क्षेत्रों में मिले अधिक लोग डेंगू से हैं पीड़ित

कानपुर में एक साथ डेंगू के 13 नए मरीज़ों के मिलने से स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों की चिंता बढ़ गई है। कानपुर के ग्रामीण इलाकों के हालात शहरी क्षेत्रों की अपेक्षा अधिक खराब हैं। जहां डेंगू के कुल 298 मामलों में से 237 मरीज़ ग्रामीण इलाकों के हैं, वहीं शहरी इलाकों में 61 लोग डेंगू से पीड़ित हैं। कथित तौर पर शहरी क्षेत्र के न्यू आज़ाद नगर में एक संक्रमित मिला है।

ग्रामीण क्षेत्र के बिल्हौर के गूजेपुर में एक व भागमनपुर में तीन, बिधून के खेरसा में एक, सरसौल के बम्बुरिया में एक, पतारा के रामसारी में एक, घाटमपुर के जवाहर नगर पश्चिम में एक, कुसमांडा नगर के परिहार पीसीओ गली में एक व हाफिजपुर में एक एवं चौबेपुर के मरखरा व भवानीपुर में एक-एक डेंगू पीड़ित मिले हैं।

डेंगू की रोकथाम के लिए लगातार किए जा रहें हैं प्रयास

डेंगू की रोकथाम के लिए स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों द्वारा लगातार एंटी लार्वा का छिड़काव करवाया जा रहा है और साथ ही फॉगिंग भी कराई जा रही है। इसके साथ यह आवश्यक है कि लोग इसके प्रति जागरूक हों और अपने घर के आस-पास गंदा पानी जमा न होने दैं। सभी के संयुक्त प्रयासों से ही डेंगू को नियंत्रित करना संभव हो पाएगा।

 

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *