इस वर्ष मेजर ध्यानचंद खेल रत्न पुरस्कारों के लिए देखभर के 12 खिलाड़ियों का चयन किया गया था। इस सूची में राजस्थान के दो खिलाड़ी अवनि लेखरा और कृष्णा नागर अपनी जगह बनाने में सफल रहे हैं।  आज इन खिलाड़यों को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद द्वारा मेजर ध्यानचंद खेल रत्न पुरस्कार से सम्मानित किया जाएगा।

इतिहास में पहली बार राजस्थान के दो खिलाड़ियों को मिलेगा खेल रत्न

दोनों खिलाड़ी राजस्थान के जयपुर से हैं, जहां अवनि लेखारा ने पैरालिंपिक में शूटिंग में गोल्ड जीता वहीं कृष्णा ने बैडमिंटन M6 कैटेगरी में गोल्ड मेडल हासिल कर विश्व स्तर पर देश का गौरव बढ़ाया। इतिहास में ऐसा पहली बार होगा जब एक साथ राजस्थान के दो पैरालिंपिक खिलाड़ियों को खेल रत्न दिया जाएगा।

इनके अलावा इस बार नीरज चोपड़ा (जेवलिन), अवनी लेखरा (शूटिंग), मिताली राज (क्रिकेट), रवि दहिया (रेस्लिंग), लवलिना (बॉक्सिंग), सुनील छेत्री (फुटबॉल), पीआर श्रीजेश (हॉकी), प्रमोद भगत (बैडमिंटन), कृष्णा नागर (बैडमिंटन), मनीष नरवाल (शूटिंग) और सुमित अंतिल (जेवलिन) को खेल रत्न से सम्मानित किया जाएगा।

खेल रत्न पुरस्कार विजेताओं को मिलेगी 25 लाख रुपये की राशि

खेल रत्न पुरस्कार में 25 लाख रुपए की इनामी राशि और प्रशस्ति पत्र मिलता है। अर्जुन पुरस्कार विजेताओं को 15 लाख की इनामी राशि और प्रशस्ति पत्र मिलता है। साल 2020 से पहले खेल रत्न पुरस्कार विजेता को 7.50 लाख रुपए, जबकि अर्जुन पुरस्कार विजेता को 5 लाख रुपए दिए जाते थे, जिन्हें इस बार बढ़ा दिया गया है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *