जब भी हम राजस्थान की बात करते हैं, तो अपने आप ही शानदार महल, राजसी किले और पराक्रम की अनेक गाथाओं वाले वहां के शक्तिशाली किलों की तस्वीरें मन में अंकित हो जाती है। लेकिन अक्सर हम वहां की सजावटी विरासत जो दस्तकारी कला (handicrafted art) के विभिन्न नमूनों को दर्शाती है, उससे अनजान रह जाते हैं। राजस्थान में ऐसा ही एक गाँव है बगरू जो अपनी कला की अनोखी किस्मों के लिए जाना जाता है। यह गाँव जयपुर के समीप स्थित है और अपने प्राकृतिक रंगों (natural dyes) और हैंड ब्लॉक प्रिंटिंग (hand block printing) के लिए प्रसिद्ध बगरू गाँव ने दुनिया को अपने नाम के ही एक आकर्षक कपड़े के काम का तोहफा दिया है।

'बगरू' से 'डाबू' तक मनमोहक तकनीकों की शृंखला



जयपुर-अजमेर रोड पर स्थित, यह गांव रायगर और छीपा समुदाय के लिए एक घर है, जिन्होंने 100 वर्षों से अपनी पारंपरिक कलाओं को संरक्षित किया है। बगरू प्रिंट के रूप में देश के कपड़ों के खजाने के बीच चमकता हुआ ब्लॉक प्रिंटिंग का ये काम छीपा समुदाय के लोगों द्वारा नेचुरल डाइज की मदद से किया जाता है। दस्तकारी ही नहीं बल्कि काम के लिए कच्चा माल प्राप्त करने का स्रोत भी उतना ही मनोरम है। तीन सदियों पहले से चली आ रही इस उच्च परंपरा में रंगो को सब्जियों और फलों से तैयार किया जाता हैं जैसे पीला रंग हल्दी से ,नीला रंग नील से और लाल रंग मैडर जड़ों से। कारीगर पहले कपड़े पर मुल्तानी मिटटी पर घिसते हैं, फिर उसे हल्दी के पानी में डुबा देते हैं। कपड़े को सामान्य क्रीम रंग मिलने के बाद, लकड़ी के ब्लॉक प्रिंट का उपयोग करके प्राकृतिक रंगों से सजाया जाता है।

बगरू में लगभग सभी घर रंगाई और छपाई के पारंपरिक तरीकों से जुड़े हुए हैं। हालांकि यह आश्चर्यजनक है कि कुछ परिवारों के, सभी सदस्य एक ही कलात्मकता से जुड़े हुए हैं और दुनिया के सबसे बेहतरीन कपड़ों के काम को बखूबी पूरा कर रहे हैं। कारीगरों के समर्पण को देखते हुए, बगरू प्रिंट एक संपन्न काम है और इसलिए देश ही नहीं बल्कि दुनिया भर के कला संरक्षकों को आकर्षित करने में कामयाब है। अन्य तकनीकों के बीच, 'दाबू ' नामक प्रिंट एक मुख्य आकर्षण है। यदि आप कलाकारों को यह कार्य करते देखेंगे तो निश्चित रूप से आप खुद इसे करना चाहेंगे।

कैसे पहुंचे बगरू गाँव ?



जयपुर से किराये पर वाहन लेकर आप बगरू गाँव आसानी से पहुँच सकते हैं और इस दिलचस्प शहर के रास्ते पर, राजस्थान के सुंदर परिदृश्य से रूबरू हो सकते हैं। यदि आप राजस्थानी व्यंजनों के लिए उत्सुक हैं, तो अपने बगरू जाने के मार्ग पर स्थित ढाबों पर अवश्य रुकें।

हालांकि भारत असंख्य कलाओं और संस्कृतियों का देश है, लेकिन बगरू जैसे वस्त्रों का एक आकर्षक केंद्र खोजना आसान नहीं है। इसलिए, यदि आपको कपड़ों की शानदार किस्मों में दिलचस्पी है ,तो बगरू आपका वन स्टॉप डेस्टिनेशन होना ही चाहिए। यदि आप रेगिस्तानी राज्य की शानदार वास्तुकला से मुग्ध हो गए हैं, तो हमें यकीन है कि इस दिलचस्प गाँव की ललित कला आपके मन को और भी ज़्यादा मोह लेगी।

नॉक नॉक (Knock Knock)

ताजा ख़बरों के साथ सबसे सस्ती डील और अच्छा डिस्काउंट पाने के लिए प्लेस्टोर और एप स्टोर से आज ही डाउनलोड करें Knocksense का मोबाइल एप और KnockOFF की मेंबरशिप जल्द से जल्द लें, ताकि आप सभी आकर्षक ऑफर्स का तत्काल लाभ उठा सकें।

Android - http://https://play.google.com/store/apps/details?id=com.knocksense

IOS - https://apps.apple.com/in/app/knocksense/id1539262930