अपने व्यापक प्रयासों के लिए प्रशंसा प्राप्त करते हुए स्मार्ट सिटी मिशन के तहत परियोजनाओं के आधार पर 36 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों की ऑनलाइन रैंकिंग की गयी। इस रैंकिंग में राजस्थान ने पहला स्थान हासिल किया। 100 सर्वश्रेष्ठ शहरों की सूची में उदयपुर, कोटा, अजमेर और जयपुर ने 5वां, 10वां, 22वां और 28वां स्थान हासिल किया। केंद्र सरकार ने गुरुवार को नई रैंकिंग जारी करते हुए विभिन्न राज्य और स्थानीय प्रशासन के कार्यों को उनके समग्र बुनियादी ढांचे को बढ़ावा देने के लिए उन्हें मान्यता दी।

कड़ी निगरानी से राजस्थान को यह उपलब्धि हासिल करने में मदद मिली 

जबकि राज्य को पहले,दूसरे स्थान पर रखा गया था, यह इस साल 36 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के मूल्यांकन में एक कदम ऊपर चढ़ गया। रिपोर्ट के अनुसार, स्मार्ट सिटी मिशन के तहत योजनाओं की सख्त निगरानी ने राज्य को आंध्र प्रदेश और गुजरात की तुलना में अधिक अंक हासिल करने में मदद की।

कथित तौर पर, केंद्र सरकार पूर्ण और चालू परियोजनाओं की संख्या और उनपर पर खर्च हुई  धनराशि के आधार पर राज्यों का आकलन करती है। इसके अलावा, केंद्रीय प्रशासन द्वारा दिए गए धन के उपयोग को भी ध्यान में रखा जाता है।

नागरिकों को लाभ प्रदान करने की गारंटी के लिए व्यापक योजनाएं

अधिकारियों द्वारा की कई गयी पहलों में,संसाधनों को बढ़ाने, पानी की पर्याप्त उपलब्धता सुनिश्चित करने और जागरूकता बढ़ाने के लिए सुव्यवस्थित प्रयास शुरू किए गए हैं। कथित तौर पर, अधिकारियों ने मजदूरों और दिहाड़ी मजदूरों की जरूरतों और आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए संसाधनों की पर्याप्त सप्लाई सुनिश्चित की है। उल्लेखनीय रूप से, इसने प्रवासी श्रमिकों की वापसी को रोकने में मदद की और संकट के प्रभावों को कम किया।

जयपुर भविष्य की प्रगति के केंद्र में बदल रहा है

हालांकि जयपुर के पास अपनी रैंक में सुधार करने की अपार संभावनाएं हैं, फिर भी शहर में चल रही अनेक परियोजनाओं को स्वीकार करना महत्वपूर्ण है। जयपुर में हो रहे विकास के बीच, राजस्थान विधानसभा में एक डिजिटल पुस्तकालय की स्थापना,वेस्ट मैनेजमेंट के लिए स्मार्ट उपकरणों को तैनात करना, मंदिरों और शैक्षणिक संस्थानों का जीर्णोद्धार, कुछ सबसे प्रमुख हैं। इसके अलावा, अधिकारियों ने हेरिटेज वॉकवे, उन्नत पार्किंग स्थलों और बेहतर स्टेडियमों के लिए भी कई प्रयास शुरू किये हैं।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *