मुख्य बिंदु:

– प्रयागराज-जयपुर एक्सप्रेस ट्रेन में स्लीपर के दो कोच हटाकर एसी थ्री इकोनॉमी कोच लगाए गए।

– एसी थ्री कोच के मुकाबले कम होगा एसी थ्री इकोनॉमी कोच का किराया।

– एसी थ्री में जहां 72 सीट होते हैं वहीं इकोनॉमी में 83 बर्थ होंगी। 

– इस कोच को टच फ्री बॉयो टॉयलेट और सीसीटीवी कैमरा जैसी सुविधाओं से लैस किया गया।

लोगों की यात्रा को आरामदायक और किफायती बनाने के लिए प्रयागराज-जयपुर एक्सप्रेस ट्रेन में स्लीपर के दो कोच हटाकर एसी थ्री इकोनॉमी कोच लगाए गए। रिपोर्ट के अनुसार, प्रयागराज-जयपुर एक्सप्रेस ट्रेन देश की पहली ऐसी ट्रेन होगी जिसे इकोनॉमी कोच लगाए गए हैं। यह कोच कल से ट्रेन में जोड़े गए और इसमें 109 यात्रियों ने सफर किया।

 एसी थ्री कोच के मुकाबले कम होगा इस कोच का किराया


रिपोर्ट के अनुसार, प्रयागराज-जयपुर एक्सप्रेस ट्रेन के बाद लोकमान्य तिलक-कोचूवेली, विशाखापट्टनम-अमृतसर और लखनऊ-मुंबई पुष्पक एक्सप्रेस में एसी थ्री इकोनॉमी कोच लगाए जाएंगे। एसी थ्री इकोनॉमी कोच लगने से यात्री कम पैसों में एसी कोच में सफर कर पाएंगे। इस कोच का किराया एसी थ्री कोच के मुकाबले कम होगा।

जहां प्रयागराज से मथुरा का किराया इस ट्रेन के थ्री एसी कोच में 905 रुपये है, वहीं इकोनॉमी श्रेणी में किराया 835 रुपये है। हालांकि, प्रयागराज से कानपुर, फतेहपुर के लिए एसी थ्री श्रेणी का किराया और इकोनॉमी श्रेणी का किराया रेलवे ने एक बराबर रखा गया है।

एसी थ्री इकोनॉमी कोच में मिलेंगी यह सुविधाएं:

एसी इकोनॉमी कोच में आमने-सामने वाली सीट में गैप की दूरी कम कर दी गई है। एसी थ्री में जहां 72 सीट होते हैं वहीं इकोनॉमी में 83 बर्थ है इन कोचों को 160 किमी प्रतिघंटा की रफ्तार तक दौड़ाया जा सकता है। 

इस कोच में बीच और ऊपर वाली बर्थ पर चढ़ने के लिए आरामदायक सीढ़ियां जोड़ी गई है। टच फ्री बॉयो टॉयलेट के साथ इस कोच के सभी बर्थ में एसी वेंट लगाया गया है। इसके जरिए हर सीट पर यात्री अपने हिसाब से एसी का आनंद उठा पाएंगे। यात्रियों की सुरक्षा को देखते हुए, इसके हर कोच में सीसीटीवी कैमरा भी लगा हुआ है जो सीधे कंट्रोल रूम से लिंक है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *