मुख्य बिंदु:

– जयपुर में स्कूल, मॉल और अस्पताल जैसे स्थानों पर नो हॉन्किंग ज़ोन बनाए जाएंगे

– इन चिन्हित जगहों पर हॉर्न बजाने वाले लोगों की वीडियोग्राफी कराई जाएगी और उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

– नियम तोड़ने वाले लोगों को सबसे पहले समझाया जाएगा।

– दूसरी बार मौके पर ही आधा घंटा खड़ा रखा जाएगा।

– तीसरी बार हॉर्न बजाते पकड़े गए तो एक घंटे की ट्रैफिक नियमों पर बनी फिल्म दिखाई जाएगी।

– अगर ज़रूरत पड़ी तो रात को 12 बजे कॉल करके हॉर्न नहीं बजाने की नसीहत पुलिस देगी।

– आखिरी में 1000 रुपये तक का चालान काटा जाएगा।

जयपुर में ट्रैफिक पुलिस स्कूल, मॉल और अस्पताल जैसे स्थानों पर नो हॉन्किंग ज़ोन बनाएगी। इन चिन्हित जगहों पर हॉर्न बजाने वाले लोगों की वीडियोग्राफी कराई जाएगी और उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। नियम तोड़ने वाले लोगों के खिलाफ कई चरणों में कार्रवाई की जाएगी, जिसमें उन्हें समझाने के लेकर, चालान काटना शामिल है। 

‘नो हॉर्न जोन’ में पुलिस जवानों की टीम तैनात की जाएगी

जयपुर में ट्रैफिक पुलिस एक नई पहल के तहत कई जगहों पर ‘नो हॉन्किंग’ ज़ोन बनाए जाएंगे, जहां हॉर्न बजाना वर्जित होगा। इस पहल को लागू करने के लिए, ‘नो हॉर्न जोन’ में पुलिस जवानों की टीम तैनात की जाएगी। यह जवान हॉर्न बजाकर नियम तोड़ने वाले लोगों की वीडियोग्राफी भी करेंगे, जिससे उनके खिलाफ कार्रवाई की जा सके। 

रिपोर्ट के अनुसार, पहली बार हॉर्न बजाते पकड़े जाने पर जिम्मेदार को समझाया जाएगा। दूसरी बार पकड़े गए तो मौके पर ही आधा घंटा खड़ा रखा जाएगा। तीसरी बार हॉर्न बजाते पकड़े गए तो एक घंटे की ट्रैफिक नियमों पर बनी फिल्म दिखाई जाएगी। इसके बाद भी सुधार नहीं हुआ तो रात 12 बजे फोन कॉल पर हॉर्न नहीं बजाने की नसीहत पुलिस देगी और आखिर में एक हजार रुपए का चालान काटा जाएगा।

इस कार्य को निष्पादित करने के लिए टीम का गठन किया जा रहा है, सोशल मीडिया पर सज़ा के लिए सुझाव भी मांगे जा रहे हैं।

शहर में इन जगहों पर बनाए जाएंगे नो हॉर्न जोन: 

-सचिवालय- स्टेच्यू सर्किल से विस तक जनपथ क्षेत्र, तिलक मार्ग, भवानी सिंह रोड, टी-पॉइंट से पृथ्वीराज रोड तक, सचिवालय के चारों ओर 150 मी. तक।

-विधानसभा- विधानसभा के चारों ओर 150 मीटर की दूरी।

-कलेक्ट्रेट- कलेक्ट्रेट सर्किल से सवाई जयसिंह हाइवे चिंकारा कैंटीन तक की सड़क के दोनों ओर, शिवमार्ग बनीपार्क धमार्थ सर्किल तक सड़क के दोनों ओर के परिसर, कलेक्ट्रेट सर्किल से खासाकोठी सर्किल तक।

-सिविल लाइन- नाटाणियों के चौराहे से सिविल लाइन पुलिस चौकी तक।

-हवा सड़क टी पॉइंट के बीच का एरिया।

-अजमेर रोड, सोडाला थाने तक, फिर हवा सड़क होते हुए सहकार सर्किल, सहकार सर्किल से होटल राजमहल टी-पॉइंट से सिविल लाइन चौकी तक सड़क के बीच का पूरा क्षेत्र।

-जल भवन से नाटाणियों का चौराहा वाली सड़क के दोनों तरफ।

-अस्पताल: शहर के सभी अस्पतालों के चारों ओर 150 मीटर के दायरे में।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *