जयपुर से मध्य भारत और दक्षिण भारत की यात्रा आसान बनाने के लिए सोमवार से जयपुर और सवाईमाधोपुर के बीच पहली इलेक्ट्रिक ट्रेन का संचालन शुरू हुआ। यह ट्रेन पुणे से दोपहर से जयपुर पहुंंची। सवाईमोधोपुर में इसमें इलेक्ट्रिक इंजन लगाया गया, वहां से इस ट्रेन से जयपुर तक का सफर 110 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ़्तार से तय किया। इसके संचालन शुरू होने के साथ ही जयपुर से मुंबई के लिए यह दूसरा रूट है,जो इलेक्ट्रिक हुआ है।

भविष्य में कई और इलेक्ट्रिक ट्रेने इस रूट पर चलाई जाएंगी

उत्तर पश्चिम रेलवे जयपुर मंडल के सवाई माधोपुर से जयपुर रेलमार्ग पर बिजली इंजन से चली पहली ट्रेन 02939 पुणे जयपुर सुपरफास्ट सोमवार16 अगस्त को जयपुर पहुंची। इससे अब पूणे, इंदौर, भोपाल, हैदराबाद, मुंबई सहित कई मध्य और दक्षिण भारत तक का सफर अब यात्रियों के लिए आसान हो जाएगा। सामान्य डीज़ल इंजन की ट्रेन इस रूट पर 80 से 100 किलोमीटर की गति से चलती थी,अब इलेक्ट्रिक ट्रेन 110 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से इस रूट पर दौड़ेगी। इस रूट के विद्युतीकरण में रेलवे ने 142 करोड़ रुपये खर्च किए हैं। इलेक्ट्रिक ट्रेन, डीज़ल ट्रेन और माल गाड़ी की अपेक्षा अधिक किफायती होती हैं।

उत्तर-पश्चिम रेलवे के जयपुर मंडल के अधिकारियों ने बताया कि, पहली ट्रेन का संचालन सफलतापूर्वक हो गया है। इस ट्रैक पर पहली इलेक्ट्रिक पैसेंजर ट्रेन के रूप में पुणे-जयपुर सुपरफास्ट चलाई गई। सामान्य डीजल इंजन की ट्रेन  इलेक्ट्रिक इंजन चलने से यात्रियों के लिए समय की तो बचत होगी ही रेलवे को इसका फायदा होगा। फिलहाल एक ही ट्रेन इलेक्ट्रिक चलेगी, बाकी डीजल इंजन से चलते रहेंगे। आने वाले दिनों में जरूर सभी ट्रेनों को इसी तर्ज पर चलाया जाएगा।

जुलाई में निरीक्षण के बाद इस ट्रेन को चलाने की अनुमति दी गई थी

रिपोर्ट के अनुसार, जयपुर से सवाई माधोपुर के 131 किलोमीटर के इस रेलखंड और जयपुर रेलवेयार्ड को 30 जुलाई को सीआरएस की अनुमति मिली थी। जुलाई के अंतिम सप्ताह में वेस्टर्न सर्किल के कमिश्नर ऑफ रेलवे सेफ्टी (सीआरएस) आर.के. शर्मा ने जयपुर स्टेशन के यार्ड में विद्युतीकरण कार्य का निरीक्षण किया था। वहां मिलीं छोटी-मोटी तकनीकी खामियों को दूर करने के निर्देश दिए थे। इसके बाद उन्होंने इस ट्रैक पर इलेक्ट्रिक ट्रेन चलाने की मंजूरी दी। जयपुर में अभी अजमेर और दिल्ली रूट पर इलेक्ट्रिक ट्रेन का संचालन हो रहा है। जयपुर से कोटा, भोपाल जाने वाले रूट पर जयपुर से सवाई माधोपुर के बीच डीजल इंजन से ट्रेन का संचालन हो रहा है। सवाई माधोपुर में जाकर ट्रेन का इंजन बदलकर डीजल की जगह इलेक्ट्रिक लगाया जाता है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *