जयपुर, कोटा और राजस्थान के कई अन्य क्षेत्रों ने शनिवार को मानसून की पहली बारिश का स्वागत किया और रविवार को भीषण बारिश देखी गई। जयपुर के मौसम विभाग के अनुसार, ये बारिश राज्य के पूर्वी हिस्से को धोते हुए दक्षिण-पश्चिम हवाओं के साथ आयी है। यहां सेटेलाइट इमेज से पता चला की जयपुर और आसपास के जिलों में घने बादल चाहिए हुए हैं और मंगलवार तक बारिश की संभावना है।

राजस्थान में आंधी और बिजली गिरने से 24 घंटे का अलर्ट

इस मानसून के मौसम में, राजस्थान में पिछले साल की तुलना में 36 फीसदी कम बारिश हुई है, जिससे यह तीसरी लहर बेहद महत्वपूर्ण है। आईएमडी ने भी कहा है कि राजस्थान सहित उत्तर-पश्चिम भारत के बेल्ट पर बारिश की गतिविधि सबसे अधिक बढ़ जाएगी। मौसम विभाग ने कहा कि अगले 24 घंटों के दौरान यहां बिजली गिरने के साथ मध्यम से तेज आंधी की भी संभावना है।

हताहतों से बचने के लिए घर के अंदर रहने के लिए कहा गया है। 21 जुलाई तक राज्य में हल्की बारिश भी हो सकती है। यह चेतावनी राजस्थान में हाल ही में हुई बिजली दुर्घटना के संबंध में जारी की गई है जिसमें 16 लोगों की जान चली गई थी। कथित तौर पर, बिजली का झटका उन पर्यटकों के एक समूह को लगा, जो आमेर किले के प्रहरीदुर्ग के ऊपर सेल्फी ले रहे थे।

मूसलाधार बारिश से पूरे रेगिस्तानी राज्य में ठंडक हुई है। हवाओं के सुखद झोंकों के साथ इसने तापमान को अधिकतम 27 डिग्री सेल्सियस तक कम कर दिया है। रात का तापमान कम से कम 25 डिग्री तक है, जिससे दैनिक सीमा में कोई भारी वृद्धि नहीं होगी।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *