महामारी की मार झेल रहे राजस्थान के होटल व्यवसायी अब यात्रियों को आकर्षित करने के लिए कई उपाय किए जा रहे हैं। कोविड के बाद लोगों की पसंद में बदलाव को देखते हुए, राजस्थान में बुटीक संपत्ति के मालिकों ने यात्रियों को नया और बेहतरीन अनुभव प्रदान करने की तैयारी कर ली है। इसके लिए उदयपुर और जोधपुर जैसी राजस्थान की लोकप्रिय जगहों पर बुटीक होटल स्वास्थ्य के प्रति जागरुक पर्यटकों की ज़रूरत को ध्यान में रखते हुए सेवाएं उपलब्ध करवा रहे हैं।

महामारी के कारण पैदा हुई चुनौतियों का सामना

भारत में युवा समेत कई लोग घूमने और ठहरने के लिए राजस्थान जा रहे हैं। राम्या रिज़ॉर्ट एंड स्पा, उदयपुर के महाप्रबंधक रवींद्र नाथ पुरोहित, जिसे भारत का सबसे नया हाई-एंड लक्ज़री रिज़ॉर्ट कहा जाता है, ने कहा, “यह वह सेगमेंट है जो हम तब से प्राप्त कर रहे हैं जब से महामारी ने हमें कड़ी टक्कर दी है। यात्रियों का यह समूह आता है आईटी क्षेत्र से। वर्क-फ्रॉम-होम ने उन्हें भारत के किसी भी हिस्से से काम करने की स्वतंत्रता दी और इसलिए हमें मुंबई, बेंगलुरु, गुरुग्राम और दिल्ली से छोटे परिवार और समूह मिल रहे हैं।

लोगों की सभी ज़रूरतों का रखा जा रहा है ख्याल

“नए जमाने का यात्री काम के प्रति उत्साही है, लेकिन व्यस्त शहर के जीवन से एक ब्रेक भी लेना चाहता है। वह अपने परिवार के साथ खाना पकाने के पारंपरिक तरीकों से परिचित होने के दौरान ऑर्गेनिक भोजन के आनंद का अनुभव करना चाहता है। इसलिए हम ऐसे लोगों के लिए नए पैकेज  और खुली भूमि को ऑर्गेनिक खेतों में परिवर्तित करने पर काम कर रहे हैं, जहां मेहमान सब्जियां, अपनी पसंद के फल तोड़ सकते हैं, जिन्हें स्थानीय ‘चुल्हा’ और तंदूर पर पकाया जाने के बाद उन्हें परोसा जाएगा,” महाप्रबंधक ने कहा।

 राम्या रिज़ॉर्ट एंड स्पा अब घरेलू यात्रियों और उनकी जरूरतों पर ध्यान केंद्रित कर रहा है। घरेलू मेहमानों को पारंपरिक खाना पकाने की पुरानी दुनिया के आकर्षण से परिचित कराने के लिए, यह संपत्ति तंदूर और चूल्हों पर घर के बने भोजन में प्रशिक्षित स्थानीय लोगों को नियुक्त करने के लिए तैयार है। 

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *